भारतीय मार्केट में इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रचलन की शुरूआत के बाद से ही कई कंपनियां अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ियां मार्केट में पेश करने की होड़ में लगी हुई हैं। भारतीय मार्केट में कम बजट वाली इलेक्ट्रिक गाड़ियों से लेकर लग्जरी इलेक्ट्रिक गाड़ियां तक मौजूद हैं। खास बात तो यह है कि ये इलेक्ट्रिक कारें वातावरण फ्रेंडली होती हैं।

ऐसे में अगर आप भी कम बजट में एक दमदार इलेक्ट्रिक कार खरीदने की तलाश में हैं, तो आज हम आपको एक ऐसी इलेक्ट्रिक कार के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको महज बाइक की कीमत पर मिल जाने वाली है। दरअसल, इसका नाम है – Yakuza Electric Car, जिसमें आपको दमदार रेंज के साथ फीचर्स और धांसू लुक भी मिल जाता है। तो आइए जानते हैं Yakuza Electric Car के बारे में –

Yakuza Electric Car के धांसू फीचर्स

आपको बता दें कि Yakuza Electric Car में आपको कई आधुनिक और दमदार फीचर्स देखने को मिल जाते हैं। इस कार में आपको एरोडायनामिक डिजाइन, डुअल कलर टोन, एलईडी हेडलैंप और टेल लैंप, और एलॉय व्हील्स जैसे फीचर्स तो दिए ही गए हैं।

वहीं इसके अलावा भी आपको इसमें डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, पावर विंडो, सेंट्रल लॉकिंग, रियर पार्किंग सेंसर, एयर कंडीशनिंग और रीजनरेटिव ब्रेकिंग जैसे फीचर्स भी देखने को मिल जाते हैं।

Yakuza Electric Car के दमदार सेफ्टी फीचर्स

बता दें कि Yakuza Electric Car में आपको सेफ्टी फीचर्स के तौर पर एयरबैग, ABS with EBD, सीट बेल्ट और रियर पार्किंग सेंसर जैसे एडवांस सेफ्टी फीचर्स दिए गए हैं।

Yakuza Electric Car की पावरफुल बैटरी

बता दें कि Yakuza Electric Car में 60v42ah पावर वाले दमदार बैटरी का इस्तेमाल किया गया है, जिसकी मदद से ये सिंगल चार्ज में 50-60 किलोमीटर तक की रेंज प्रदान करती है। वहीं इस छोटी सी कार को 0 से 40 किलोमीटर की स्पीड पकड़ने में महज 12 सेकंड का समय लगता है।

बता दें कि Yakuza Electric Car को चार्ज करने में लगभग 5-7 घंटों का समय लगता है। ऐसे में इसे फुल चार्ज करने के लिए आपको इसे पूरी रात चार्ज में लगाकर रखना होगा।

Yakuza Electric Car की कीमत

Yakuza Electric Car की कीमत की बात करें तो इस छोटी लेकिन फीचर्स से भरपूर दमदार कार को कंपनी द्वारा ₹1.70 लाख रुपए (एक्स-शोरूम) की कीमत पर मार्केट में पेश किया गया है।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.