भारतीय ऑटोमोबाइल मार्केट में इन दिनों इलेक्ट्रिक टू व्हीलर्स की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ गई है। आमतौर पर इसमें टू व्हीलर्स स्कूटर्स का मार्केट ज्यादा लोकप्रिय है, लेकिन अब टू व्हीलर बाइक्स की तरफ भी लोग ध्यान केंद्रित करने लगे हैं। ग्राहकों की इसी डिमांड को देखते हुए कई नई इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनियां भारतीय बाजार में प्रवेश कर रही हैं।

ऐसी ही एक कंपनी है Vinfast, जिसने हाल ही में भारतीय मार्केट में एंट्री ली है और इस बीच अब इस कंपनी ने भारतीय मार्केट में अपना नया इलेक्ट्रिक स्कूटर Vinfast Klara S लॉन्च कर दिया है। इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में आपको धांसू रेंज के साथ बेहतरीन और आधुनिक फीचर्स भी देखने को मिल जाते हैं। तो आइए जानते हैं Vinfast Klara S Electric Scooter के स्पेसिफिकेशंस के बारे में –

Vinfast Klara S Electric Scooter के धांसू फीचर्स

फीचर्स की बात करें तो Vinfast Klara S Electric Scooter में कंपनी की तरफ से ग्राहकों की सुविधा के लिए कई आधुनिक और प्रीमियम फीचर्स दिए गए हैं। इस बाइक में आपको एक डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, एलईडी हेडलैंप और टेललैंप, रिवर्स गियर, व्हील कंट्रोल सिस्टम और एंटी-थेफ्ट अलार्म जैसे दमदार फीचर्स मिल जाते हैं।

वहीं इसके अलावा एडवांस फीचर्स के तौर पर आपक इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में एक पोर्टेबल चार्जर, फास्ट चार्जिंग सपोर्ट और एक ऐप भी मिल जाता है, जो स्कूटर को नियंत्रित करने की अनुमति देता है।

Vinfast Klara S Electric Scooter की पावरफुल बैटरी

बता दें कि Vinfast Klara S Electric Scooter में आपको कंपनी की ओर से 3.5 kWh का LPF बैटरी पैक दिया गया है, जो 3000W पीक पावर वाली BLDC इलेक्ट्रिक मोटर के साथ आता है। वहीं इसकी बैटरी को चार्ज करने में लगभग 5 से 6 घंटे का समय लगता है।

Vinfast Klara S Electric Scooter की रेंज और टॉप स्पीड

पावरफुल बैटरी की मदद से Vinfast Klara S Electric Scooter में आपको 195 किलोमीटर तक का अधिकतम रेंज देखने को मिल जाता है। वहीं इस बाइक की टॉप स्पीड 78km/h है।

Vinfast Klara S Electric Scooter की कीमत

कीमत की बात करें तो प्रीमियम फीचर्स के अनुसार कंपनी की तरफ से इस बाइक को काफी किफायती दाम में पेश किया गया है। Vinfast Klara S Electric Scooter को 1.2 लाख (एक्स-शोरूम) रुपये की कीमत पर मार्केट में पेश किया गया है।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.