भारतीय ऑटोमोबाइल मार्केट में आजकल इलेक्ट्रिक कारों की डिमांड बढ़ती जा रही है। ऐसे में कई नई कंपनियों के साथ चर्चित कंपनियां भी अब भारतीय मार्केट में अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लॉन्च पर ही फोकस कर रही हैं। इस बीच अब ग्राहकों के इसी डिमांड को ध्यान में रखते हुए Tata कंपनी ने अपनी लोकप्रिय कार को इलेक्ट्रिक वेरिएंट में लॉन्च करने की तैयारी शुरू कर दी है।

दरअसल, हम बात कर रहे हैं Tata Nano Electric Car, जो इस साल के अंत तक भारतीय मार्केट में एंट्री मार सकती है। बता दें कि इस कार को कंपनी कई बड़े अपडेट और धांसू फीचर्स के साथ मार्केट में पेश करने की तैयारी में है। ऐसे में आइए जानते हैं Tata Nano Electric Car के फीचर्स और संभावित कीमत के बारे में –

Tata Nano Electric Car में मिलेंगे धांसू फीचर्स

आपको बता दें कि Tata Nano Electric Car में कई आधुनिक और दमदार फीचर्स देखने को मिल सकते हैं। इस कार में संभावित तौर पर Android Auto & Apple Carplay कनेक्टिविटी के साथ 7 इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, ब्लूटूथ और इंटरनेट कनेक्टिविटी, 6-स्पीकर साउंड सिस्टम, पावर स्टीयरिंग, पावर विंडो और एंटी-रोल बार भी शामिल हैं। वहीं इसके अलावा इस कार में एसी, फ्रंट पावर विंडो, मल्टी-इंफॉर्मेशन डिस्प्ले, रिमोट लॉकिंग, इलेक्ट्रिक पार्किंग ब्रेक, इलेक्ट्रिक पार्किंग ब्रेक जैसे एडवांस फीचर्स देखने को मिल सकते हैं।

Tata Nano Electric Car की पावरफुल बैटरी

रिपोर्ट्स की मानें तो Tata Nano Electric Car में दो बैटरी वेरिएंट देखने को मिल सकते हैं। इसके पहले ऑप्शन में 19kWh की बैटरी दी जा सकती है, जो 250km तक का रेंज देने में सक्षम होगी। वहीं इसके अलावा इसके दूसरे बैटरी विकल्प के रुप में 24 kWh की बैटरी भी देखने को मिल सकती है, जो 300km तक का रेंज देगी। वहीं इसमें आपको 2 चार्जर भी मिल जाएंगे।

इस कार के पहले चार्जर के रुप में 15 वाट का चार्जर दिया जा सकता है, जो इसकी बैटरी को लगभग 5-6 घंटे में फुल चार्ज करने में सक्षम होगा। वहीं इसके अलावा इस कार में डीसी बैटरी भी दी जाएगी, जो इस कार को महज 3 घंटे में ही फुल चार्ज कर देगी।

Tata Nano Electric Car की संभावित कीमत

बता दें कि Tata Nano Electric Car की कीमत को लेकर अबतक कोई साफ जानकारी सामने नहीं आई है, लेकिन रिपोर्ट्स की मानें तो इस कार को 5 लाख रुपए (एक्स शोरुम) तक की शुरूआती कीमत पर मार्केट में पेश किया जा सकता है।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.