ये तीन देश भी हैं कनाडा से नाखुश,हर हाल में चाहते है भारत का साथ

Avatar

By Zainub Malik

Published on:

ये तीन देश भी हैं कनाडा से नाखुश,जब से खालिस्तानी आंतकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या हुई है

तब से कनाडा और भारत के रिश्ते में दरार आ रही है.दोनों देशो के आपस में राजनयिक रिश्ते खतरे में आ गए हैं.

भारत और कनाडा ने एक दूसरे के राजनयिक को निष्कासित तक कर दिया है.भारत  ने अपने देशवासियों के

लिए और कनाडा ने कनाडा अपने देशवासियों के लिए अलग-अलग एडवाइजरी भी जारी कर दी है.

और इसी बीच अमेरिका के एक अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने चोंका देने वाला खुलासा किया है.

यह भी जाने– अगर आप सेकेंड हैंड कार को खरीदने के चक्कर में हो गए परेशान,तो आज ही चेक करें 95,000 कि Maruti Wagon R

G20 से पहले त्रुदी चाहते थे मुद्दा उठाना

वाशिंगटन पोस्ट अखबार के अनुसर जस्टिन ट्रूडो G20 समिट में पहले ही इस बात का मुद्दा उठाना चाहते थे.

और इसीलिये छोड़ो ने अमेरिका ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के सरकार प्रमुख से भी बात की थी.

लेकिन कोई भी इन्हें तीन में से इस मुद्दे पर बात नहीं करना चाहता था यहां तक ​​कि साथ भी नहीं देना चाहता था

और ना ही भारत की निंदा करना चाहता है18 अगस्त को अमेरिका की सरकार से भी बात की थी वो चाहे थे

कि अमेरिका उनका साथ दे और निज्जर की हत्या को गलत ठहराए.लेकिन कहा जा रहा है कि

कनाडा के प्रधान मंत्री के अनुरोध को  अमेरिका ने ख़ारिज कर दिया था.क्योंकि अमेरिका जानता है

कि मोदी सरकार और भारत एक ऐसा देश है जो चीन का मुकाबला कर सकता है

जस्टिन ट्रूडो ने भारत पर अरोप लगाये  

जस्टिन ट्रूडो ने भारत पर कई सारे गंभीर आरोप लगाए हैं और वह भी ऐसे समय पर जब अमेरिका भारत को

अपना सबसे बड़ा भूराजनीतिक और व्यापार भागीदार बना रहा है और भारत और अमेरिका दोनों ही चीन से

निपटना चाहते हैं ऐसे में अमेरिका बिल्कुल नहीं चाहता कि भारत के साथ अमेरिका के रिश्ते बिल्कुल भी खराब हो.

ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन से भी इस बारे में बात की है ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने इस मुद्दे पर अपनी चिंता जताई.

मामला सुलझना ज़रूरी है

भारत और कनाडा के रिश्ते प्रति अध्ययन करने वाले सिंगापुर के विद्वान कार्तिक नाचिप्पन कहते हैं कि ये मुद्दा

काफी समय से भारत और कनाडा के बीच चल रहा था.इसे जल्दी ही सुलझाया नहीं गया तो हालात बहुत खराब

हो सकते हैं.किसी के साथ भारत और कनाडा  ने अपने अपने देशो के विद्यार्थियों और कर्मचारियों को सतर्क

रहने के लिए कहा है

यह भी जाने

Avatar

Dedicated professionals who write about cinema and television in all their vibrancy. Expect views, reviews and news.