तूफ़ान पीड़ितों के लिए भेजे गए राहत सामग्री से भरे ट्रक को TMC के गुंडों ने लूटा, ड्राइवर को बनाया बंधक

 
bengal

कोलकाता: हाल ही में पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफ़ान यासने जमकर त्रासदी मचाई, करोड़ों लोग इस तूफ़ान से प्रभावित हुए, एक फाउंडेशन ने तूफ़ान पीड़ितों की मदद के लिए एक ट्रक भरकर राहत सामग्री भेजी थी, जिसे रास्ते में सत्तारूढ़ टीएमसी के गुंडों ने दिनदहाड़े लूट लिया। ड्राइवर को बंधक बना लिया। यह जानकारी ट्वीट करके सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना ने दी है.

योगिता भयाना ने कुछ वीडियो और तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, WestBengal में आया #Cyclone में पीड़ितों के लिए ‘Building Dreams Foundation’ द्वारा पूर्वी मिदनापुर भेजा गया राहत सामग्री से भरा ट्रक को दिन दहाड़े बीच रास्ते में लूट लिया गया, मारपीट की गई और ड्राइवर को बंधक बना लिया गया, TMC प्रधान इंदू भूषण गिरि,सुभादीप गिरि और पार्थोप्रतिम गिरि द्वारा 9 टन अनाज की बोरियां लूटा गया, स्थानीय पुलिस मौके वारदात पर देर से पहुंची, योगिता भयाना ने बंगाल पुलिस, बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री कार्यालय बंगाल को टैग करके तुरंन्त मामलें का संज्ञान लेने की अपील की है।


गौरतलब है कि चक्रवाती तूफ़ान यास ने बंगाल में जमकर तबाही मचाई। दो दिन पहले प्रधानमंत्री बंगाल गए थे, उन्होंने तूफ़ान ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया और मदद के लिए 500 करोड़ देनें का ऐलान किया।

तूफ़ान ग्रस्त इलाकों का सर्वेक्षण करनें के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक समीक्षा बैठक बुलाई थी, इस मीटिंग में पीएम के अलावा बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, दो केंद्रीय मंत्री, विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को शामिल होना था, मीटिंग में सभी समय से पहुंचे और सीएम ममता बनर्जी आधे घंटे लेट पहुँची, मीटिंग में पहुँचते ही ममता ने प्रधानमंत्री को एक फ़ाइल दी और निकल गई.

From around the web