UP: पानी के छींटे पड़ने पर आमने-सामने आए दो समुदाय, एक की मौत

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

उत्तर प्रदेश के कानपुर में पानी के छींटे पड़ने को लेकर बवाल देखने को मिला है। यहां दो पक्ष केवल इसलिए आमने-सामने आ गए क्योंकि उन पर पानी के छींटे पड़ गए थे। इस घटना में दूसरे समुदाय का एक युवक गंभीर रूप से घायल हुआ है जिसकी बाद में मौत भी हो गई। वहीं घटना के बाद से इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है। उधर पुलिस प्रशासन की ओर से स्थिति को संभालने के लिए इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवार को 5 लाख की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना में आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही का निर्देश भी दिया है।

बता दें, पूरा मामला चकेरी थाना क्षेत्र के जाजमऊ इलाके का बताया जा रहा है। यहां पर वाजिदपुर में रहने वाले 25 साल के पिंटू निषाद टेनरी में काम करता था। जब रात को वह अपने बड़े भाई दीपक और दोस्त संदीप के साथ कहीं जा रहा था तो रास्ते में उन्होंने पीने के लिए पानी का पाउच खरीदा। कहा जा रहा है उनके द्वारा खरीदे गए पानी के पाउच की बूंदे इलाके के कुछ युवक पर किसी युवक पर पड़ गई इसी बात को लेकर अमान और उसके साथी तीनों से भिड़ गए। तीनों की पिटाई शुरू कर दी। बदले में उन्होंने भी युवकों के पीटा। कुछ ही देर में वहां दोनों पक्षों के लोग एकत्र हो गए। विवाद बढ़ता गया और लाठी-डंडे चलने लगे।

पथराव में पिंटू निषाद घायल

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो एक पक्ष की तरफ से दूसरे पक्ष पर पथराव होने लगा। इस पथराव में पिंटू गंभीर रूप से घायल हो गया। पिंटू के एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उसे हैलट अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। हैलट पहुंचते ही डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सांप्रदायिक तनाव के चलते तैनात की गई फोर्स

पिंटू की मौत की खबर इलाके में आग की तरह फैल गई। देखते ही देखते मामला सांप्रदायिक हो गया। पुलिस और प्रशासन ने तनाव देखते हुए इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। पिंटू के घरवालों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि अमान पहले भी कई बार पिंटू के साथ मारपीट कर चुका था। उनके परिवार ने पुलिस में शिकायत की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

From around the web