UP: अबॉर्शन के दौरान निकाल लिया बच्चे का शरीर, पेट में छोड़ा सिर

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

उत्तर प्रदेश के जालौन में एक प्राइवेट अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां डॉक्टरों द्वारा महिला के अबॉर्शन के दौरान बच्चे का धड़ तो निकाल लिया गया लेकिन बच्चे का सिर महिला के पेट में ही छोड़ दिया। इसके बाद डॉक्टरों द्वारा महिला को डिस्चार्ज कर दिया गया लेकिन जब महिला को पेट में मौजूद बच्चे के सिर के कारण दर्द हुआ तो परिजन महिला को लेकर अस्पताल पहुंचे लेकिन डॉक्टरों ने अपने हाथ खड़े करते हुए परिजनों को किसी दूसरे अस्पताल में दिखाने की बात कहकर भगा दिया।

बता दें, ये पूरा मामला नगर कोंच स्थित जेपीएस लाइफ अस्पताल का है। जहाँ एक गर्भवती महिला को पीड़ा होने पर उसके परिजन अस्पताल लेकर आए। यहां मौजूद डॉक्टरों द्वारा परिजनों को महिला के अबॉर्शन करवाने की सलाह दी गई। डॉक्टरों की बात सुन परिजनों ने महिला का अबॉर्शन करवा लिया। हालांकि डॉक्टरों ने अबॉर्शन करते समय बच्चे का धड़ काटकर बाहर निकाल लिया लेकिन बच्चे का सर महिला के पेट मे ही छोड़ दिया और महिला को डिस्चार्ज कर दिया लेकिन बच्चे का सर अंदर रहने की बजह से महिला को तेज दर्द शुरू हो गया। जिसके बाद परिजन महिला को लेकर अस्पताल लेकर अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने परिजनों को किसी दूसरी जगह दिखाने की बात कहकर अस्पताल से भगा दिया। जिसके बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया और उच्च अधिकारियों से इसकी शिकायत की।

वहीं इस पूरे मामले में चिकित्सा अधीक्षक शुक्ला का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में आया है। मामला अबॉर्शन का था। जिसमे महिला का अबॉर्शन सही तरीके से नही हो पाया था। बच्चे के शरीर के  अवशेष अंदर रह गए थे। जब महिला के परिजन दुबारा से अस्पताल पहुँचे तो डॉक्टरों ने उन्हें किसी दूसरी जगह दिखाने के लिये कहा था जिससे कि परिजनों के मन में कोई शंक न रहे। इसके बाद परिजन महिला को लेकर डॉ आर वी जैन के अस्पताल पहुँचे तो उन्होंने महिला की जांच की और अब महिला पूरी तरह से स्वास्थ है।

From around the web