UP: सरकार की गाइडलाइन के बाद संकट में मूर्तिकार

 
 

रिपोर्ट : रितिका आर्या

उत्तर प्रदेश: कोरोना काल में जहां कई लोगों के रोजगार छीन गए हैं तो कई लोगों को इस कोरोना काल में जीवन यापन ही बदल गया है इस बीच कोरोना संकट की मार मूर्तिकारों पर भी पड़ने लगी है। प्रदेश सरकार के द्वारा जारी दुर्गा पंडालों में स्थापित होने वाली मूर्तियों को लेकर आदेश के बाद मूर्तिकारों में भारी मायूसी देखी जा रही है। बता दें, उत्तर प्रदेश में सरकार ने सार्वजनिक रूप से देवी प्रतिमा की स्थापना करने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है और प्रदेश के लोगो से अपील की है कि जिसको देवी प्रतिमा की स्थापना करनी है वो अपने अपने घरों में करे सार्वजनिक रूप से नहीं।

सरकार के इस आदेश के बाद से मूर्तिकारों में मायूसी देखी जा रही है और अब उनके सामने जीवन यापन करने का संकट खड़ा हो गया है क्योंकि ये मूर्तिकार इस समय अपने पैसो से मूर्तिया बनाकर बेचने का कार्य करते थे और इसी व्यवसाय से वो पूरे साल अपने-अपने परिवार का भरण पोषण करते है लेकिन मूर्ति स्थापना पर रोक लगने के चलते अब इन मूर्ति कारीगरों की मूर्तियों की बिक्री नही होगी जिससे उनके सामने जीवन यापन का संकट पैदा हो गया है।

वहीं, मूर्तिकारों का कहना है कि सरकार को उनके बारे में सोचना चाहिए। उनका यही एक मात्र एक जरिया है और पूरे साल वो लोग इसी से घर का खर्च चलाते है और अब सरकार ने मूर्ति स्थापना पर रोक लगा दी है जिससे उनका और उनके परिवार का जीवन संकट में आ चुका है। कि अगर मूर्ति नही बिकेगी तो उनका घर कैसे चलेगा। मूर्तिकारों ने सरकार से गुहार लगाई है कि उनके जीवन यापन के बारे में भी सरकार कुछ सोचे।

From around the web