ससुराल वालों से परेशान आकर युवक ने काटा अपना गला, बेटे की ऐसी हालत देखकर सदमे में गई मां की जान

 

नई दिल्ली : मां का तबियत लंबे समय से खराब होने के कारण युवक अपनी पत्नी को लाने ससुराल गया था, लेकिन उसकी पत्नी आने को तैयार नहीं हुई। जिसके बाद वह युवक अपने घर को आया, और उसने खुद के गर्दन काट लिये, जिसे देख वहां मौजूद परिजन उसे अस्पताल ले जाने लगे, लेकिन वो शख्स अपने परिजन से ही उलझ पड़ा। किसी तरह उसके परिजन उसे अस्पताल ले गये। जहां उसे मेरठ रेफर कर दिया गया।

आपको बता दें कि बेटे की इस हालत को देखकर बीमार मां की सदमे में मौत हो गई। बता दें कि ये पूरा मामला यूपी के बागपत कोतवाली क्षेत्र के अग्रवाल मंडी टटीरी कस्बे का है। जिसकी शादी आज से तकरीबन 6 साल पहले गाजियाबद के लोनी की रहने वाली युवती से हुई थी। शादी के कुछ ही दिन बाद दोनों में झगड़ा होने लगा। झगड़ा के कारण अनुज की पत्नी मायके में रह रही थी। खबरों की मानें तो अनुज की पत्नी ने उसके खिलाफ दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज कराया है।

सूत्रों की मानें तो अनुज अपनी पत्नी को लेने अपनी ससुराल गया हुआ था, जहां उसने अपनी पत्नी को मां के बीमार के बारे में बताया और साथ चलने को कहा। जिसे अनुज की पत्नी ने ससुराल जाने से मना कर दिया। आरोप है कि इस दौरान अनुज के ससुरालवालों ने उसके साथ बदतमीजी की और उसे वापस भेज दिया।

आपको बता दें कि ससुरालियों के इस रवैये से परेशान होकर अनुज अपने घर पहुंचा और ब्लेड से अपना गला काट लिया। अनुज को जब परिजन अस्पताल ले जाने लगे तो वो उनसे ही उलझ गया। जैसे-तैसे उसे अस्पताल ले जाया गया। गंभीर हालत देखते हुए उसे मेरठ रेफर किया गया। वहीं बेटे की ऐसी हालत देखकर अनुज की मां सुमन देवी की सदमे में मौत हो गई। बता दें कि सुमन पिछले दो हफ्ते से पैरालिसिस ग्रस्त थी। हालांकि मामले में अनुज की बहन ने अपने भाई के ससुरालवालों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

From around the web