यूपी में दोहराया दिल्ली का निर्भया कांड, सीएम योगी ने खुद लिया संज्ञान, दिया ये सख्त आदेश

 

नई दिल्ली : दिल्ली के बाद अब यूपी के बदायूं में भी निर्भया जैसे कांड को अंजाम दिया गया, जिससे योगी सरकार विपक्षी नेताओं के निशाने पर आ गई है। हालांकि योगी सरकार ने उन सभी विपक्षी नेताओं को मुंहतोड़ जवाब देते हुए इस मामले में खुद संज्ञान लिया है और ADG जोन बरेली से रिपोर्ट मांगी है। इसके साथ ही उन्होंने पीड़िता के परिवार को 10 लाख रुपये की सहायता राशि और सरकारी योजनाओं का लाभ देने की घोषणा की है।

वहीं, अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि अगर इस मामले में STF को भी लगाना पड़े तो उन्हें लगाकर जल्द घटना की जांच की जाए। उन्होंने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के निर्देश दिए हैं। एसएसपी संकल्प शर्मा ने भी पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने और आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने की बात कही है।

मुख्य आरोपी महंत अब भी फरार

बदायूं के एसएसपी संकल्प शर्मा ने बताया कि गत रविवार को उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव में मंदिर गई 50 वर्षीय एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। परिजन ने मंदिर के महंत सत्य नारायण और उसके दो साथियों पर बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया है। इस आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनमें से वेद राम और जसपाल को मंगलवार रात गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि आरोपी महंत फरार है। उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की चार टीम गठित की गई हैं।

महिला के गुप्तांग में चोट, ज्यादा खून बहने से हुई मौत

एसएसपी ने बताया कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में महिला से बलात्कार की पुष्टि हुई है और उसके गुप्तांग में चोट और पैर में फ्रैक्चर पाए गए हैं। जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर यशपाल सिंह का कहना है कि महिला की मौत सदमे और अत्यधिक रक्तस्राव की वजह से हुई है। घटना को निर्भया कांड जैसा बताया जा रहा है।

आपको बता दें कि सरकार ने इस मामले के मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है, अभी फरार है।

From around the web