UP में संत की सरकार में अब संत भी सुरक्षित नहीं- मायावती

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

राजस्थान के बाद उत्तर प्रदेश के गोंडा में पुजारी पर हुए मामले पर सियासी पारा चढ़ गया है। प्रदेश सरकार इस मामले को लेकर विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है। जहां पहले इस मामले पर राजस्थान की गहलोत सरकार ने प्रदेश सरकार पर तंज कसते हुए कार्यवाही की मांग की थी तो वहीं अब बहुजन समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने प्रदेश सरकार पर हमला किया है। गोंडा में पुजारी पर हुए मामले को अति-शर्मनाक बताते हुए मायावती ने कहा की सन्त की सरकार में अब सन्त भी सुरक्षित नहीं। इसके अलावा मायावती ने योगी सरकार से जांच कर दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

सोमवार सुबह मायावती ने ट्वीट कर लिखा, “राजस्थान की तरह यूपी के गोण्डा जिले में जिस तरह से मन्दिर के पुजारी पर भू-माफियाओं द्वारा हमला किया गया वो शर्मनाक है। माया ने कहा की मन्दिर की जमीन पर कब्जा करने के इरादे से किया गया जानलेवा हमला ये दर्शाता है की अब सन्त की सरकार में अब सन्त भी सुरक्षित नहीं। इससे खराब कानून-व्यवस्था की स्थिति और क्या हो सकती है?”

मायावती ने आगे लिखा, “यूपी की सरकार इस मामले में सभी पहलुओं का गम्भीरता से संज्ञान लेकर दोषियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे तथा इस घटना से जुडे़ सभी भू-माफियाओं की सम्पत्ति भी जरूर जब्त की जाये। साथ ही, साधु-सन्तों की सुरक्षा भी बढ़ाई जाये”।

आपको बता दें कि गोंडा जिले के इटियाथोक इलाके श्रीराम जानकी मंदिर के पुजारी पर शनिवार रात हमला किया गया। बदमाशों ने पुजारी पर गोली मार दी जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गए। जिसके बाद उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया जहां इलाज चल रहा। उधर, पुलिस ने वारदात की वजह भूमि विवाद बताया। मुकदमा के बाद लोगों को हिरासत में लिया गया।

इस बीच पुजारी और एसओ के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ। जिसमें पुजारी एसओ से जानलेवा हमला होने की बात कहते हुए सुरक्षा मांग रहे थे पर सुरक्षा नहीं बढ़ी और वारदात हो गई। इस मामले पर एसपी शैलेश कुमार पांडेय संज्ञान लेते हुए एसओ लाइन हाजिर कर दिया। 

From around the web