HATHRAS RAPE: CM योगी ने SIT को मिली 10 दिन और मोहलत, मिले है ये अहम सबूत...

 

लखनऊ: हाथरस गैंगरेप (Hathras Gangrape) केस की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (SIT) को योगी आदित्यनाथ (Yogi adityanath) सरकार ने 10 दिन की मोहलत और दे दी है। दरअसल, पूरे मामले की जांच के लिए एसआईटी (SIT) को पहले सात दिन की मोहलत दी गई थी, जिसका समय आज पूरा हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (YOGI ADITYANATH) के निर्देश पर 30 सितंबर को गृह सचिव भगवान स्वरूप की अध्यक्षता में एसआइटी  (SIT) गठित की गई थी। एसआइटी में डीआइजी (DIG) चंद्र प्रकाश (Chandra prakash) और एसपी (SP) पूनम (Poonam) बतौर सदस्य शामिल हैं। एसआईटी की टीम ने पीड़िता के परिवार से बातचीन कर बयान दर्ज किया कर लिया है। कल एसआईटी ने उस जगह का भी दौरा किया जहां पीड़िता का पुलिस द्वारा अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

हाथरस कांड में मंगलवार को सबसे बड़ा मोड़ सामने आया है। मृत युवती के भाई और घटना के मुख्य आरोपित संदीप सिंह की कॉल डिटेल से पता चला है कि दोनों नंबरों पर लंबी बातचीत हुई है। 13 अक्टूबर 2019 से मार्च 2020 के बीच इन नंबरों पर 104 से अधिक कॉल हैं। कुल कॉल अवधि पांच घंटे से अधिक हैं। कॉल डिटेल से साफ है कि दोनों नंबरों पर लगातार बातचीत की गई है।


इस पूरे मामले की एसआईटी जांच चल रही, लेकिन इससे पहले यूपी सरकार मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश भी कर चुकी है, साथ ही सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि जांच अदालत अपने निर्देशन में कराए, लेकिन पीड़ित परिवार वाले बार-बार कह रहे हैं कि वो सीबीआई जांच नहीं चाहते हैं।

From around the web