बनारस में दिखा गंगा-जमुनी तहजीब, मुस्लिम महिलाएं दिवाली के लिए बना रही हैं राम दीपक

 

बनारस: पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र जहां मुस्लिम बहनों ने एक बार फिर गंगा-जमुनी तहजीब को साबित कर दिया है। यहां की मुस्लिम बहनें हिंदू भाइयो के लिए दिवाली त्योहार में दीपक जलाने के लिए राम दीपक तैयार कर रही हैं।

दिवाली के लिए मुस्लिम महिला फाउंडेशन एवं विशाल भारत संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में मुस्लिम महिलाएं लमही के श्री इंद्रेश आश्रम में दीपावली के लिए भारत की मिट्टी एवं गाय के गोबर से विशेष रामदीपक तैयार कर रही हैं।

इनका उद्देश्य है कि इस साल चाइना के झालर का बहिष्कार के साथ घर में उजाला करने के लिए प्रतिदिन सैकड़ों रामदीपक तैयार कर रही हैं, जिसे शहर के प्रतिष्ठित लोगों और हिंदू परिवारों को अपने हाथ से वितरित करेंगी, जिससे दीपावली पर रोशनी की जा सके।

इस दौरान मुस्लिम महिलाओं ने कहा कि काशी की मुस्लिम महिलाओं ने 'सौहार्द्र का दीपक' बनाकर दिया है। दीपावली भगवान श्रीराम के अयोध्या आगमन के अवसर पर मनाई जाती है। अधर्म पर धर्म की विजय दिलाकर प्रभु श्रीराम जब अयोध्या लौटे तो उस वक्त पूरी दुनिया राममय हो गई थी। आज धार्मिक कट्टरता से जूझते विश्व को शांति और सद्भावना की तलाश है। इसीलिए मुस्लिम महिलाएं रामदीपक के जरिए उजाला करने के लिए इन दिनों खूब मेहनत कर रही हैं।

From around the web