पदयात्रा से पहले ही घर में कैद हुए कांग्रेस नेता, गाय और किसानों को लेकर...

 

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के कई क्षेत्रों से ऐसी कई खबरें में आई थी, जिसमें गायों के लावारिस अवस्था में मरे जाने, गौशाला में पर्याप्त सुविधा होना और कई गौशालाओं के निर्माण होने के बावजूद भी गायों को सड़क पर भटकते हुए पाया जाना, जिसे लेकर ना प्रशासन कोई कार्रवाई कर रही थी, और ना सरकार। सरकार के इसी उदासीनता को लेकर कांग्रेस नेता पदयात्रा निकलने वाले थे, जिससे पहले ही उन्हें नजरबंद कर दिया गया।

आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव रोहित चौधरी और पूर्व सांसद प्रदीप जैन आदित्य सहित कई पार्टी नेताओं को "गाय बचाओ, किसान बचाओ" पदयात्रा से पहले घर में नजरबंद कर दिया गया है। पदयात्रा शनिवार से शुरू होने वाली है और ललितपुर से चलेगी, चित्रकूट में समापन से पहले विभिन्न जिलों में यात्रा की जाएगी। चित्रकूट में कांग्रेस नेता सरकार की उदासीनता के कारण कथित तौर पर मरी हुई गायों के लिए 'तर्पण' देंगे।

लखनऊ में पार्टी के नेताओं ने कहा कि वे इस तरह के मुद्दों पर राज्य सरकार का विरोध जारी रखेंगे और कार्यक्रम के अनुसार पदयात्रा निकाली जाएगी।

From around the web