बड़ी खबर : अमर सिंह के बाद बीजेपी के एक और नेता की मौत, सीएम योगी ने रद्द किया अयोध्या दौरा

 

नई दिल्ली : सपा के पूर्व नेता और बीजेपी नेता अमर सिंह के निधन के 24 घंटों के अंदर ही बीजेपी के एक और दिग्गज नेता की मौत हो गई, जिससे पूरे बीजेपी महकमे में सन्नाटा पसरा है। आपको बता दें कि ये नेता योगी कैबिनेट में अहम पद पर कार्यरत थी, जिनका नाम कमल रानी वरूण है। बता दें कि सीएम योगी ने कमल रानी को अपनी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री का जिम्मा सौंपा था, जो पिछले कुछ समयों से कोरोना संक्रमण के कारण लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती थी, जिनकी निधन की पुष्टि एसजीपीजीआई के सीएमएस डॉक्टर अमित अग्रवाल ने की।

आपको बता दें कि मंत्री कमल रानी वरुण के निधन की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज का अपना अयोध्या दौरा स्थगति कर दिया है। सीएमएस डॉ अमित अग्रवाल ने बताया कि उन्हें सीवियर कोविड-19 निमोनिया हो गया था। इस वजह से वह एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम में चली गई थी। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने का भरसक प्रयास किया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना के लिए निर्धारित रेमडेसिविर समेत अन्य  निर्धारित दवाएं उन्हें लगातार दी जा रही थी, लेकिन सुधार नहीं हो रहा था।

डॉ अमित ने कहा कि मंत्री कमलारानी को पहले से ही डायबिटीज, हाइपरटेंशन व थायराइड से जुड़ी समस्या थी। उनका ऑक्सीजन लेवल काफी कम हो गया था। हालांकि शुरुआत के 10 दिनों में उनकी तबीयत स्थिर रही, लेकिन पिछले 3 दिनों से अचानक स्थिति खराब होने लगी। शनिवार की शाम करीब 6:00 बजे तबीयत ज्यादा बिगड़ने के बाद उन्हें बड़े वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया। जिसके बाद आज यानी रविवार को सुबह 9:00 बजे उनकी निधन की खबर आई। बता दें कि कमला रानी को बीते 18 जुलाई को ही एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। तब से वह लगातार ऑक्सीजन और छोटे वेंटीलेटर के सपोर्ट पर थी। बीते दिनों  प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने के बाद उन्हें संजय गांधी पीजी मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंसेस में आइसोलेट किया गया। हालांकि इस दौरान उनकी बेटी भी कोरोना पॉजिटिव थी, जो ठीक हो गयी, लेकिन मंत्री साहिबा को नहीं बचाया जा सका।

From around the web