बाबरी विध्वंस मामला: सत्यमेव जयते की हुई जीत : सीएम योगी

 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाबरी विध्वंस मामले पर सीबीआई कोर्ट द्वारा 28 साल बाद फैसला सुनाए जाने पर कहा है कि  सत्यमेव जयते के अनुरूप जीत हुई है। सीएम ने कहा कि यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर काम किया गया था।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस ने वोट बैंक की राजनीति के लिए देश के पूज्य संतों, बीजेपी के नेताओं, विश्व हिंदू परिषद से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों व समाज से जुड़े विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को बदनाम करने की नीयत से झूठे मुकदमे में फंसाकर बदनाम किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस षड्यंत्र के लिए जिम्मेदार है और देश की जनता से माफी मांगे।

अदालत ने सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया है। मामले में आडवाणी, जोशी, उमा भारती, नृत्य गोपाल दास, कल्याण सिंह और सतीश प्रधान को छोड़कर सभी 26 अभियुक्त फैसले के वक्त अदालत में मौजूद थे।

बता दें कि अयोध्या में छह दिसम्बर 1992 बाबरी मस्जिद विवादित ढांचा विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने 28 साल बाद अपना फैसला सुना दिया है। अदालत ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। अदालत ने ये भी कहा कि मस्जिद का विध्वंस सुनियोजित नहीं था। अदालत ने कहा कि किसी भी आरोपी के खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं मिले।

From around the web