आजमगढ़: धर्मांतरण कराने के आरोप में तीन ईसाई प्रचारक गिरफ्तार, लालच देकर...

 

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिला स्थित दीदारगंज थाना क्षेत्र की पुलिस ने धर्म परिर्वतन कराने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जो लालच देकर लोगों का धर्म परिर्वतन करा रहें थे। इस मामले पर दीदारगंज के थाना प्रभारी ने बताया कि 'उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन (Conversion) प्रतिषेध कानूनके तहत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया गया है।

डीह कैथौली गांव (Dih Kahauli Village) के लोगों ने बताया कि गांव के त्रिभुवन यादव के घर रविवार सुबह से दर्जनों लोग जुटे थे। वहां ईसाई धर्म के तीन प्रचारक बाहर से आए थे। धर्म परिवर्तन को लेकर प्रार्थना सभा चल रही थी। इसी बीच गांव के अशोक यादव ने पुलिस के पास इस संबंध में शिकायत की।

आपको बता दें कि अशोक यादव की तहरीर पर पुलिस ने लालच देकर धर्म परिर्वतन कराने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर तीनों धर्म प्रचारकों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान जौनपुर निवासी बालचंद जायसवार, वाराणसी निवासी गोपाल प्रजापति और आजमगढ़ निवासी नीरज कुमार के रूप में की गई है।

बता दें कि इससे पहले भी कन्नौज जिले की पुलिस ने गुरसहायगंज थाना क्षेत्र में धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर एक युवक को गिरफ्तार किया है। जिस पर अपनी पहचान छिपाकर लड़की को प्रेमजाल में फंसाकर शादी करने के साथ ही जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप है।  

जिले के गुरसहायगंज थाना (Gursahaiganj police station) क्षेत्र में मामला सामने आने के बाद पुलिस ने शनिवार को मामला दर्ज किया और रविवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

From around the web