हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद अब भीम आर्मी ने दी ये चेतावनी

 

शामली: उत्तर प्रदेश के हाथरस में चार लोगों की दरिंदगी का शिकार बनी एक और निर्भया ने दम तोड़ दिया। आपको बता दें कि मंगलवार को निर्भया नेदिल्ली के सफदरगंज में दम तोड़ दिया था। जिसके बाद अब इस गैंगरेप की घटना के बाद रेप पीड़िता की मौत से देशभर में घटना की आलोचना के साथ-साथ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। इसी विरोध प्रदर्शन को लेकर शामली कि भीम आर्मी यूनिट ने जनपद शामली के कस्बा थानाभवन में स्थित अंबेडकर मार्केट से गैंगरेप पीड़िता की मौत पर कैंडल मार्च निकाल रेप पीड़िता को श्रद्धांजलि दि। भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष अनुज भारती के नेतृत्व में अंबेडकर मार्केट से भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने कैंडल मार्च निकालना शुरू किया। कैंडल मार्च कस्बे के मुख्य बाजार व सड़कों से होकर गुजरा।

इस दौरान भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने अपना विरोध जताते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए गैंगरेप पीड़िता के हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की। भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष अनुज भारती का कहना है कि सरकार की कथनी और करनी में अंतर है। जिसके चलते देश में बेटियों की सुरक्षा खतरे में है। भीम आर्मी ने देशभर में जगह जगह धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है। साथ ही भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष का कहना है कि वह राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर अपना विरोध जताएंगे।

गैंगरेप का शिकार हुई दलित युवती की मौत मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में हुई. देर रात को पुलिस की सुरक्षा के बीच युवती के शव को हाथरस के गांव ले जाया गया. जब पुलिस पहुंची तो आधी रात को भी बड़ी संख्या में भीड़ मौजूद थी, इस दौरान पुलिस का भारी विरोध किया गया। युवती के परिजनों और गांव वालों ने पुलिस ने शव देने की अपील की, साथ ही इंसाफ की अपील की. लेकिन पुलिस ने परिजनों की एक ना सुनी और किसी को भी युवती के शव के पास नहीं आने दिया और जबरन खुद ही अंतिम संस्कार कर दिया. इतना ही नहीं, यूपी पुलिस ने किसी मीडियाकर्मी को भी पास नहीं आने दिया. 

From around the web