राजस्थान में अब तक 43,804 कोरोना मामले, राज्य स्वास्थ्य विभाग ने जारी की रिपोर्ट

 

रिपोर्ट : प्राची गुलियानी

नई दिल्ली : देशभर में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है तो वहीं रिकवरी रेट में भी काफी सुधर देखने को मिल रहा है। राजस्थान की बात करें तो आज ही के दिन राजस्थान में 561 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले है जिसमे से 9 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना का रिपोर्ट जारी की है। जिसके अनुसार राज्य में कुल पॉजिटिव कोरोना केसों की संख्या 43,804 हो गई है जिसमे से फिलहाल 12,391 केस एक्टिव है। वहीं 30,710 मरीज कोरोना से जंग जीत अपने घर जा चुके है और 703 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।      

बीते दिन की बात करें तो शनिवार के दिन प्रदेश में कोरोना के 1160 नए कोरोना संक्रमित केस सामने आए। जिसमे से 14 लोगो की कोरोना से मौत हो गई । जिसके बाद अब तक प्रदेश में कोरोना से संक्रमित केसों की संख्या 43,243 पहुच गई है। जिसमे से 697 लोगों की कोरोना से मौत हुई तो एक्टिव केसों की संख्या 11,881 है।

कोरोना को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से एक साथ कोरोना महामारी पर वीडियो कांफ्रेंसिंग करनी चाहिए। साथ ही ये वीडियो कांफ्रेंसिंग दो दिन तक करनी चाहिए ताकि प्रधानमंत्री सभी राज्यों के मुख्यमंत्री से उनके राज्य के बारे में बात कर सकें और सबको बोलने का मौका मिल पाए। इसके साथ ही अशोक गहलोत ने राज्य को मिलने वाले राजस्व के बारें में बात करते हुए बताया कि इस बार राज्य को मिलने वाले राजस्व में कमी आई है। राजस्थान का राजस्व केवल 40 प्रतिशत ही आया है। जोकि केंद्र सरकार को बताना चाहिए कि वे क्या और कैसे मदद कर रहे हैं।

आपको बता दें कि कोरोना के मामलों को देखते हुए शनिवार को चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने राजभवन जाकर राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात की। साथ कोरोना को रोकने को लेकर सरकार की ओर से किए जा रहे प्रयासों की जानकारी ली। चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने राज्यपाल को बताया कि सदन में प्रवेश से पहले सभी विधायकों की स्क्रीनिंग होगी जिसके बाद भी उनको अंदर जाने दिया जाएगा इसके अलावा बिठाते समय भी सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना जरूरी होगा।

From around the web