कृषि बिल का विरोध करने वालों को यहां मिल रहा भर पेट खाना

 

रिपोर्ट- ललित शर्मा

अमृतसर: शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने कृषि बिल कानून का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में आ कर उनके लिए लंगर सेवा आरभ्भ कर दी है। कमेटी ने 25 सितंबर को एसजीपीसी के कार्यालय को बंद रखने का एलान भी किया था।

एससजीपीसी के प्रधान भाई गोबिन्द सिंह लौंगोवाल ने कहा, कि कृषि देश की रीढ़ है, जिसको तबाह करने वाले विधेयक स्वीकृत नहीं किए जा सकते । उन्होंने कहा, कि यदि पंजाब समेत देश भर के किसान इन विधेयकों के साथ सहमत नहीं हैं, तो फिर केंद्र सरकार को यह बिल लागू नहीं करने चाहिए।

उन्होंने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में आ कर उनके लिए लंगर सेवा आरभ्भ कर दी है। एसजीपीसी प्रधान ने केंद्र सरकार से अपील की है कि किसान ऑर्डिनेंस बिल को पास नहीं किया जाना चाहिए। जिससे किसानी तबाह हो जाएगी, श्रोमणि कमेटी किसानों के साथ खड़ी है, किसानों को धरने के दौरान लंगर की कार सेवा एसजीपीसी की ओर से की जाएगी, सभी गुरद्वारे वालो को किसानों को लंगर उपलब्ध करवाने के लिये कहा गया है।

From around the web