कोरोना काल में लोगों के लिए वरदान बनकर सामने आई ब्लड डोनर संस्था

 

पठानकोट: कोरोना काल में हर तरफ त्राही मची हुई है। कोरोना का कह़र लगातार इतना बढ़ गया है कि मरीज़ो की संख्या घटने के बजाय बढ़ती हुई नज़र आ रही है। भारत में कोरोना के मामले बढ़कर 60 लाख के पार हो चुके हैं। वहीं पंजाब के अंदर अब तक कुल ऐसे संवेदनशील माहौल में पंजाब सरकार अपने प्रयास और सेवा में तत्पर है। वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसी समाज सेवी संस्थाऐं भी हैं जो आपातकाल में आमजन के लिए वर्दान साबित हो रही हैं। शहर के अस्पताल में मरीजों की भूख की समस्या हो, या कोई और, ये संस्था हमेशा पूर्ण जोश के साथ तैयार रहती है।


ऐसी ही कुछ संस्थाओं में से एक पंजाब के पठानकोट में सक्रिय हैं। कोविड-काल के दौरान ये संस्था लोगों को सिविल अस्पताल में आपात सेवाओं के लिए जरूरतें पूरा करने में स्टाफ के साथ कद़म से कद़म मिलाकर चल रही है। वहीं अस्पताल में जब खून की कमी आई तो व्यवस्था को बनाये रखने के लिए भी ये संस्था पीछे नहीं हटती है। बता दें कि पठानकोट में ब्लड डोनर संस्था द्वारा ब्लड कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें 300 ब्लड यूनिट दान किया गया है।

 
वहीं संस्था के वर्करों का कहना है कि कोविड काल दौरान सिविल अस्पताल में खून की कमी देखने को मिल रही थी जिसके चलते उनके द्वारा कोविड महामारी के दौरान अपना सहयोग देते हुए 1000 के करीब ब्लड यूनिट अब तक दिए जा चुके हैं। हमारे द्वारा कैंप का आयोजन कर खून दान किया जा रहा है ताकि अस्पताल में आने वाले मरीजों को खून की कमी न आये।दूसरी तरफ जब इस सबंधी अस्पताल प्रशासन के अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस कोविड काल दौरान इस संस्था का अस्पताल प्रशासन को बहुत सहयोग रहा है। जब भी सिविल अस्पताल में ब्लड यूनिट की कमी देखने को मिली तो इस संस्था द्वारा सामने आकर बल्ड कैंप लगाकर मदद की गई है। इस मौके पर उन्होंने शहर की बाकी संस्थायों से अपील करते हुए कहा कि वो भी सामने आए ताकि इस कोविड महामारी से मिल कर जीत हासिल की जा सके।

From around the web