धार्मिक स्थल खोलने को लेकर उद्धव ठाकरे ने दिया बड़ा संदेश, कहा खोले जाएंगे लेकिन...

 

नई दिल्ली : देश में जारी कोरोना संकट के दौरान अनलॉक लागू होने के बाद देश के अधिकतर मंदिरों को खोल दिया गया था, फिर भी कई मंदिरों के कपाट अभी भी बंद थे। जिसे लेकर महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने रविवार दोपहर को राज्य को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा, "लोग पूछते रहे हैं कि मंदिर फिर से कब खुलेंगे? हां, धार्मिक स्थल खोले जाएंगे, लेकिन एक बार दीवाली बीत जाने दीजिए। हम इस संदर्भ में मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) का निर्माण करेंगे।"

धार्मिक स्थलों को खोलने में हो रही देरी की बात को स्वीकारते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा चरणबद्ध तरीके से सावधानियों का ख्याल रखते हुए किया जा रहा है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि राज्य में कोरोनावायरस महामारी की पहले जैसी स्थिति न हो।

ठाकरे ने कहा कि इस देरी को लेकर कुछ लोग उन्हें दोषी भी ठहरा रहे हैं। वह सारा दोष अपने ऊपर लेने को तैयार हैं, क्योंकि मामला लोगों की सेहत और जिंदगी से जुड़ा हुआ है।

आपको बता दें कि इस मुद्दे को लेकर विपक्षी भारतीय जनता पार्टी भी सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी पर यह कहते हुए पिछले कुछ महीनों से निशाना साधे जा रही है कि पार्टी ने अन्य गतिविधियों के दोबारा शुरू किए जाने की तो अनुमति दे दी है, लेकिन धार्मिक स्थलों को अभी भी बंद कर रखा है।

From around the web