Maharashtra : मायानगरी मुंबई और महाराष्ट्र में 15 अक्टूबर से खुल सकते हैं सिनेमाघर

 

रिपोर्ट : शिखा शर्मा

नई दिल्ली : देश में कोरोना (corona) महामारी  से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना संक्रमण के 14,578 नये केस सामने आने से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14.80 लाख के पार पहुंच गयी। इस दौरान स्वस्थ लोगों की संख्या में भी बढ़ोतरी के कारण सक्रिय मामलों में कमी दर्ज की गयी। वहीं  मायानगरी मुंबई (Mumbai) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी 15 अक्टूबर से cinema hall खोले जा सकते हैं। महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra government) के मंत्री अमित देशमुख ( Amit V. Deshmukh) ने इस बात के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार (central government) की गाइडलाइन के अनुसार थिएटर्स (Theaters) खोलने पर सरकार विचार कर रही है। राज्य में अभी भी covid-19 का असर काम नहीं हुआ है इसलिए नागरिकों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। सरकार जल्द ही इसपर निर्णय लेगी।

बता दें कि केंद्र सरकार ने सिनेमाघरों को खोलने की अनुमति दे दी है लेकिन साथ यह भी कहा है कि अंतिम फैसला राज्य सरकार का ही होगा। केंद्र सरकार ने कहा कि राज्य सरकारें अपने राज्य के कोरोना मामले को देखते हुए निर्णय लें। वहीं कोरोना (corona virus ) महामारी की वजह से मार्च से लगाए गए लॉकडाउन (lockdown) की वजह से थिएटर्स बंद थे। जिन्हे अब धीरे धीरे अनलॉक(unlock) करने का काम शुरू किया गया है।

आपको बता दें कि सिनेमाघरकेंद्र द्वारा जारी की दिशा निर्देश (Guideline) के अनुसार फ़िलहाल सिनेमाघरों में 50 प्रतिशत लोगों के बैठने की इजाजत होगी। साथ ही एक कुर्सी छोड़कर बैठने की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा मास्क(Mask) लगाना अनिवार्य होगा और सैनिटाइजर (Sanitizer) भी जरूरी होगा। अमित देशमुख ने कहा कि त्योहारों के इस मौसम को देखते हुए यह थिएटर्स को खोलने का सही समय है।

जानिए केंद्र सरकार के गाइडलाइन को

हॉल के भीतर लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग रखनी होगी।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जिन सीटों को खाली छोड़ना हैं, उन्हें चिन्हित करना होगा।

सभी को आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल की सलाह दी गई है।

हॉल में प्रवेश से पहले थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। सिर्फ एसिम्पटोमैटिक लोगों को ही हॉल में जाने की इजाजत होगी।

भुगतान के लिए डिजिटल माध्यम को प्रोत्साहन दिया जाएगा।

बॉक्स ऑफिस और आसपास की जगहों की नियमित सफाई और डिसइंफेक्शन करना होगा।

बॉक्स ऑफिस पर पर्याप्त संख्या में काउंटर्स खोले जाएं।

दर्शक इंटरवल के दौरान इधर-उधर घूमने से बचें।

टिकट बुकिंग पूरे दिन खुली रहेगी और एडवांस बुकिंग की अनुमति होगी।

हॉल के आसपास थूकना पूरी तरह प्रतिबंधित है।

सिर्फ पैक किए हुए खाने-पीने के सामान की अनुमति होगी। हॉल के अंदर कोई डिलिवरी नहीं की जाएगी।

खाने-पीने के लिए सामान के लिए कई काउंटर्स रखे जाएंगे।

कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए कॉन्टेक्ट नंबर लिया जाएगा।

सभी एयर कंडिशनर का तापमान 24-30 डिग्री सेल्सियस के बीच होगा।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र पूरे देश में कोरोना संक्रमण और इससे होने वाली मौत के मामले में पहले स्थान पर है। राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान नये मामलों की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गयी जिसके कारण सक्रिय मामलों में कमी आयी है। राज्य में अब तक 14,80,489 लोग इस महामारी की चपेट में आए हैं तथा मृतकों की संख्या 39,072 हो गयी है। राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 80.81 फीसदी पहुंच गयी है जबकि मृत्यु दर महज 2.63 प्रतिशत है।  भारतीय सिनेमा के इतिहास में पहली बार साढ़े छह महीने से ज्यादा वक्त से सिनेमाघर बंद पड़े हैं। एक अनुमान के मुताबिक इससे उद्योग को 2,000 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है। कई बड़ी फिल्में अधर में लटकी हुई हैं। जिनमें अक्षय कुमार की सूर्यवंशी, सलमान खान की राधे, रणवीर सिंह की 83, वरुण धवन की कुली नं. 1 और जॉन अब्राहम की मुंबई सागा शामिल हैं।

From around the web