मध्य प्रदेश सरकार की बड़ी कार्रवाई, कंप्यूटर बाबा की संपत्ति पर चला बुलडोजर

 

नई दिल्ली : मौसम देखकर अपना मिजाज बदलने वाले कम्प्यूटर बाबा की मुसीबत एक बार फिर बढ़ गया है, जिसे लेकर मध्य प्रदेश के इंदौर में जिला प्रशासन ने आज सुबह, सुबह बड़ी कार्रवाई की है। गैरतलब है कि प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए ग्राम जमूडीहब्शी में नामदेव दास त्यागी (कंप्यूटर बाबा ) द्वारा किया गया अतिक्रमण हटाया है। जिसे कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देशन में ADM अजय देव शर्मा और अन्य SDM तथा पुलिस अधिकारियों की टीम ने आज सुबह एक्शन में लिया।

आपको बता दें कि कंप्यूटर बाबा को सेंट्रल जेल भेजे जाने की कार्यवाही की जा रही है, जो पहले ही प्रिवेंटिव डिटेंशन के तहत हिरासत में लिये जा चुंके है। जहां पुलिस बलों की भारी संख्या मौजूद है। बता दें कि यह कार्रवाई गांधीनगर पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत चल रही है। आपको बता दें कि हाल ही में मध्य प्रदेश के 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए है, जिसमें कम्प्यूटर बाबा ने कांग्रेस के पक्ष में जमकर प्रचार किया था, जो पहले बीजेपी के पक्ष में प्रचार करते थेस क्योंकि वे पहले बीजेपी में थे। लेकिन शिवराज सरकार द्वारा उन्हें कुछ तवज्जों ना दिये जाने पर उन्होंने बीजेपी से किनारा कर कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया।

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश से शिवराज सरकार के जानें के बाद कमलनाथ सरकार ने बाबा को नर्मदा-क्षिप्रा नदी न्यास का अध्यक्ष बनाया था। हालांकि यह सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चल सकीं और एक बार फिर मध्य प्रदेश में शिवराज की सरकार बनीं। जिसके बाद मध्य प्रदेश प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कम्प्यूटर बाबा के अवैध निर्माण को लेकर बड़ी कार्रवाई की और अवैध निर्माण को ढहा दिया।

एडिशनल डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (ADM) ने बताया, "इस प्रक्रिया को रोकने की कोशिश कर रहे 6 लोगों को हमने हिरासत में ले लिया है।"

From around the web