झारखंड : कोरोना संक्रमित हुए शिक्षा मंत्री के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं, डॉक्टर भी परेशान

 

रिपोर्ट : स्वाती सिंह

नई दिल्ली : झारखंड में कोरोना का कहर लगातार जारी हैं। अभी भी ये महामारी लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। अभी भी लगातार मरीजों का आकंडा हर रोज बढ़ रहा है। आम जनता से लेकर झारखंड सरकार के मंत्री भी इस कोरोना महामारी से जुझ रहे हैं। जी हां झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री की हालत काफी खराब है। झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को कोरोना हुआ था वो अस्पताल मे भर्ती थे। उनके स्वास्थ्य में सुधार की आस सबको थी लेकिन उनके परिवार वालों के लिए अच्छी खबर अभी तक नहीं आई है। शिक्षा मंत्री  की स्थिति में अभी कोई सुधार देखने को नहीं मिल रहा है। उनका स्वास्थ्य जैसे पहले क्रिटिकल स्थिति में था अभी भी ठीक वैसे ही है।

आपको बता दें कि उन्हें अभी भी अस्पताल में डॉक्टरो की निगरानी में रखा गया है और डाक्टर लगातार उनकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उनके शरीर में ऑक्सीजन सेचुरेशन का लेवल जस का तस बना हुआ है। मेडिका के मेडिकल डायरेक्टर और क्रिटिकल केयर के हेड डॉ. विजय मिश्रा ने बताया कि जब से शिक्षा मंत्री मेडिका आए हैं, उनकी स्थिति पहले जैसी ही है। उनकी स्थिति में कोई भी बदलाव नहीं हुआ है। हम लगातार उनकी देखभाल कर रहे हैं और उम्मीद है कि जल्द ही उनके स्वास्थ्य में सुधार होगा। बता दें कि शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को अब तक दो बार प्लाज्मा चढ़ाया जा चुका है लेकिन इसके बाद भी उनकी स्थिति जस की तस बनी हुई है।

आपको बता दें कि जगरनाथ महतो का आक्सीजन सेचुरेशन लेवल 93 - 95 बना हुआ है। उन्हें 100 प्रतिशत हाई फ्लो आक्सीजन दिया जा रहा है। चिकित्सकों का कहना है कि एक दो दिन के भीतर स्वास्थ्य में सुधार होगा। डॉक्टर कह रहे हैं कि जल्द ही उनका स्वास्थ्य पहले से बेहतर होगा और उम्मीद है कि वो जल्द ही डिस्चार्ज हो जाए। महतो के परिवार को भी यही उम्मीद है और सभी जल्द ही उनके स्वस्थ्य होन की कामना कर रहे हैं।

आपको बता दें कि झारखंड में कोरोना का कहर लगातार बढ़ रहा है। केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन हो रहा है और अनलॉक की प्रक्रिया भी चल रही है लेकिन स्थिति समान्य नहीं हुई है। अभी भी कोरोना संक्रमित बढ़ रहे हैं और अस्पतालों में मरीजों की भीड़ भी।

From around the web