JK: पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती का बड़ा बयान, बीजेपी को बताया लुटेरा

 

नई दिल्ली : गृह मंत्रालय द्वारा जारी नोटिफिकेशन के बाद, जम्मू-कश्मीर की जमीन अब अन्य राज्यों के लोगों के लिए भी तैयार हो गई हैं यानी अब यहां अन्य प्रदेशों के लोग भी जमीन खरीद कर अपना आशियाना बना सकेंगे। आपको बता दें कि मंत्रालय का यह कदम पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती को हजम नहीं हो रहा है। इसे लेकर उन्होंने बीजेपी को लुटेरा बताया है।

गौरतलब है कि महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार सरकार के इस बिल को लेकर गुरूवार को प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्हें, उनके कार्यकर्ताओं समेत गिरफ्तार कर लिया गया। इससे महबूबा मुफ्ती आक्रोशित हो गई। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि, 'J&K की ज़मीन को लूटने का जो कानून बीजेपी ने पास किया है उसके खिलाफ आज पीडीपी के लोग प्रदर्शन करने जा रहे थे, उनको गिरफ्तार किया, रात को घर से उठाया गया। मैंने थाने में उनसे मिलने की कोशिश की तो मुझे रोक दिया गया, जम्मू-कश्मीर को एक जेल में तब्दील किया गया है।'


महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर कहा कि, 'श्रीनगर में पीडीपी का दफ्तर जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने सील कर दिया है। कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि कार्यकर्ता शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। आपकी नजर में क्या यही 'सामान्य' हालात हैं जो आप पूरी दुनिया को दिखा रहे हैं?'

इसके साथ ही पीडीपी चीफ ने आरोप लगाते हुए कहा कि, 'ये लोग (बीजेपी) जम्मू-कश्मीर के संसाधन लूट के ले जाना चाहते हैं। बीजेपी ने गरीब को दो वक्त की रोटी नहीं दी, वो J&K में ज़मीन क्या खरीदेगा? दिल्ली से रोज एक फ़रमान जारी होता है, अगर आपके पास इतनी ताकत है तो चीन को निकालो जिसने लद्दाख की ज़मीन खाई है, चीन का नाम लेने से थरथराते हैं।'

वहीं महबूबा ने एक अन्य वीडियो ट्वीट में लिखा कि, 'जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पीडीपी के पारा वाहिद, खुर्शीद आलम, राउफ भट्ट, मोहसिन कय्यूम, ताहिर सईद, यासीन भट्ट और हामिद कोहसिन को गिरफ्तार किया है। ये लोग भूमि कानून का विरोध कर रहे थे, जो राज्य की जनता पर लाद दिया गया है। हमलोग एकजुट होकर अपनी आवाज उठाते रहेंगे और जनसांख्यिकी बदलने की केंद्र सरकार की कोशिश को बर्दाश्त नहीं करेंगे।'

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने आज जम्मू-कश्मीर के जमीन की भी रेट लिस्ट जारी कर दिया है, अगकर आप भी चाहते हैं इस जमीन को लेना तो आप जरूर इस अवसर का लाभ उठाएं।

From around the web