बड़ी खबर : 41 बार नकली सोना देकर बैंक से लिया लोन, हुआ जब खुलासा अधिकारियों के उड़ गये होश

 

नई दिल्ली : अभी तक आपने ऐसे कई खबरें पढ़े होंगे, जिसमें बैंक कंज्यूमर ऑनलाइन फ्रॉडिंग का शिकार होता है। इसे लेकर वो थाने का चक्कर भी काटते हैं और सायबर सेल का भी। लेकिन इस बार बैंक खुद ठगी का शिकार हुआ है, वो भी एक, दो बार नहीं 41 बार। आपको बता दें कि ये मामला गुजरात के सूरता का है, जहां 30 ग्राहक नकली सोना देकर 41 बार लोन ले गए। जब इस मामले में बैंक को भनक लगी तो अधिकारियों के होश उड़ गए।

बता दें कि इस मामले में अधिकारियों ने थाने में शिकायत दर्ज कराया, जिसके बाद इसकी जांच सूरत क्राइम ब्रांच को सौंपा गया। आपको बता दें कि इस मामले में सूरत क्राइम ब्रांच ने विशाल भरवाड़ नामक शख्स को गिरफ्तार किया है। अगर हम इस मामले की खुलासे की बात करें तो, इस मामले का खुलासा बड़े ही दिलचस्प तरीके से हुआ। दरअसल जब ICICI बैंक के मासिक ऑडिट में एक ही ग्राहक द्वारा बैंक की 3 अलग-अलग शाखाओं में लोन लेने का पता चला तो इसकी बैंक ने अपने तरीके से जांच शुरू की।

बैंक ने जांच में पाया कि विशाल भरवाड़ नामक शख्स ने अपने अन्य 30 साथियों के साथ मिलकर 10 अगस्त 2020 से 9 सितम्बर 2020 के दौरान 10 शाखाओं से करीब 41 बार नकली सोना देकर 2.55 करोड़ का लोन लिया था। आपको बता दें कि ये घोटाला सूरत शहर की मोटा वराछा, उत्राण, कतारगाम, योगी चौक, सरथाना और पीपलोद क्षेत्र की शाखाओं में हुआ है। इस मामले में महिलाओं और पुरुषों ने एक दूसरे का बैंक में रेफ्रेंस देकर लोन लिया था।

बता दें कि ऑडिट रिपोर्ट में खुलासा होने के बाद उनके द्वारा सिक्योरिटी के रूप में बैंक को दिए गए सोने की खराई की गई तो पता चला सोना नकली है। जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने 30 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। सूरत क्राइम ब्रांच के एसीपी आर.आर.सरवैया ने बताया कि इस मामले में अब तक 7 लोगों को गिरफ़्तार किया जा चुका है। मामले की जांच चल रही है।

From around the web