दिल्ली CM केजरीवाल का बड़ा बयान, बताया सभी सरकारों की गलती

 

नई दिल्ली : देश में जारी कोरोना संकट के बीच अनलॉक 5 की शुरुआत हो चुंकी है, जिसके बाद इस चरण में स्कूल और कॉलेजों को भी खोलने की बात की गई थी, जिससे विद्यार्थियों का पढ़ाई सुचारू रुप से चल सकें। इन्हीं सब के बीच दिल्ली सीएम केजरीवाल ने बड़ा बयान दिया है। केजरीवाल ने बढ़ते कट ऑफ को लेकर कहा कि ऐसा क्यों हो रहा है कि कटऑफ इतना ज़्यादा हो रहा है, इसमें सभी सरकारों की गलती है। ये इसलिए हो रहा है क्योंकि दिल्ली में कॉलेज, यूनिवर्सिटी की बहुत भारी कमी हो गई है। हर साल दिल्ली में करीब 2.5 लाख बच्चे बारहवीं पास करते हैं उनमें से 1.5 लाख बच्चों को दाखिला मिल पाता है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में इस समय बहुत सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने की जरूरत है, दिल्ली सरकार तैयार है। लेकिन हमारे सामने एक बहुत बड़ी कानूनी अड़चन आ रही है। 1922 में अंग्रेज़ों के बनाए 'दिल्ली यूनिवर्सिटी एक्ट' के तहत दिल्ली में जो भी कॉलेज खुलेगा वो सिर्फ DU से एफिलिएट हो सकता है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली यूनिवर्सिटी में पिछले 30 सालों में कोई नया कॉलेज नहीं खुला है। आज मैंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर इस कानून के सेक्शन 5(2) को डिलीट करने की मांग की है। ताकि नए कॉलेज, यूनिवर्सिटी खुल सकें। आपको बता दें कि पिछले कई सालों में DU में नामांकन कराने वाले विद्यार्थियों की संख्या में बहुत तेजी से इजाफा हुआ है, लेकिन कट ऑफ अधिक होने के कारण इनका नामांकन नहीं हो सका है।

From around the web