सावधान : दिल्ली की हवा हुई और बेहद खराब, कम हुई विजिबिलिटी

 

नई दिल्ली : कोरोना काल के दौरान स्वच्छ हुई दिल्ली की हवा अब प्रदूषित होने लगी है, वो भी इस कदर की अब आम लोगों का धुंध के कारण विजिबिलिटी कम हो रही है। गौरतलब है कि आज सुबह दिल्ली के कई इलाकों में प्रदूषण का मापक किया गया, जिसमें दिल्ली के कई प्रमुख इलाके की हवा का गुणवत्ता बेहद खराब है। आपको बता दें कि दिल्ली के उन प्रमुख इलाकों में आनंद विहार, अलीपुर, रोहिणी, आरके पुरम आदि प्रमुख है।

अगर हम इन क्षेत्रों में रिकॉर्ड हुए प्रदूषण की बात करें तो आनंद विहार में 361, अलीपुर में 382, रोहिणी में 344, आरके पुरम में 314, विवेक विहार- 361, ओखला चरण 2- 309 सोनिया विहार- 362 और द्वारका सेक्टर 8 में 302 दर्ज किया गया है।

खबरों की मानें तो दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने का प्रमुख कारण आस-पास के क्षेत्रों में पराली जलाना है, जिसकी हिस्सेदारी रविवार को बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई। आपको बता दें कि यह दर्ज रिकॉर्ड स्तर मौसम में सबसे ज्यादा है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने बताया कि शनिवार को पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में पराली जलाने की 3216 घटनाएं देखी गईं।

हवा गुणवत्ता की श्रेणी :

आपको बता दें कि हवा की गुणवत्ता को लेकर इसे कई भागों में बांटा गया है, जिसमें शून्य और 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 और 100 के बीच एक्यूआई को 'संतोषजनक', 101 और 200 के बीच 'मध्यम', 201 और 300 के बीच 'खराब', 301 और 400 के बीच 'बहुत खराब' और 401 और 500 के बीच एक्यूआई को 'गंभीर' माना जाता है।

From around the web