नवरात्र में 8 दिन उपवास रखने के बाद पति ने दी पत्नी की बलि !, मचा हड़कंप

 

नई दिल्ली : अक्सर आपने नवरात्रि के समय ऐसे कई किस्से सुनें होंगे जिसमें लोग मां को खुश करने के लिए बली देते हैं, वो बली पशुओं की हो या नारियल या बेल की। लेकिन उन्हीं में से कुछ लोग ऐसे भी होते है जो माता को प्रसन्न के लिए नरबलि देते हैं। क्योंकि कुछ लोगों का ऐसा मानना हैं कि नवरात्रि के आठवें दिन मां कालरत्रि नरबलि से खुश होती है और उन्हें सिद्धियां देती है।

एक ऐसा ही मामला छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर की है, जहां एक पति ने नवरात्रि के आठ दिनों तक उपवास रखने के बाद अपनी पत्नी की बलि दे दी। जिसकी सूचना जब पुलिस को मिली तो उन्होंने उस आरोपी पति को अपने हिरासत में ले लिया है, लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका हैं की उस शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या क्योंकि।

खबरों की मानें तो आरोपी शख्स झाड़फूंक का काम करता है, जिसने माता को खुश करने के लिए नर की बलि दी। हालांकि शुरूआती पूछताछ में आरोपी ने इस बात से इंकार किया की उसने अपनी पत्नी की हत्या की। पहले उसने कहा कि कुछ लोग उसके घर में घुस गये थे, जिन्होंने उसकी पत्नी की हत्या कर दी। फिर उसने कहा कि उसने अपनी पत्नी की नहीं बकरें की बलि दी हैं, जिसे लेकर उसने खून की भी जांच कराने की बात कहीं, लेकिन पुलिसिया पूछताछ में उसने अपने आरोप को कबूल ककर लिया।

आपको बता दें कि पुलिस ने आरोपी पति की पत्नी के शव को अपने कब्जे में ले लिया है, जिसके शव पर दर्जनों से भी अधिक सब्बल के वार के निशान है। बता दें कि नवरात्रि के आठवें दिन रात को उसके घर कुछ मेहमान आए थे, जो खाने-पीने के बाद सोने चले गये। सुबह जब आरोपी की बहू उठी तो उसे आरोपी ने बताया कि उसकी सास का पूजा के कमरे में शव पड़ा है। जिसे देखने के उसने पुलिस को सूचना दी।

टीआई अनूप एक्‍का ने इस मामले पर बताया कि आरोपी नवरात्र पर व्रत रखकर पूजा-अर्चना कर रहा था। परिवार वालों का कहना है कि वह मृतका से अक्सर मारपीट करता था। आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। इस दौरान वह अपने पत्नी के चरित्र सन्देह की बात कह रहा था। उन्होंने कहा कि हम सभी पहलुओं पर जांच कर रहे हैं और जल्द ही इस मामले से पर्दा उठाएंगे।

From around the web