बिहार विधानसभा चुनाव में उपेंद्र कुशवाहा का साथ पसंद है: मायावती

 

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मिया तेज हो गई है। जहां एक तरफ बिहार चुनाव में को लेकर खबरे है वही उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायवती की पार्टी भी बसपा भी अपनी किस्मत चमकाने के लिए बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और अन्य राजनीतिक दलों के साथ मिलकर चुनाव मैदान में उतरने की घोषणा की है।

मायावती ने मंगलवार को संवाददाताओं को बताया कि बिहार विधानसभा चुनावों में उतरने के लिए बसपा गठबंधन करेगी। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा गठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। उन्होंने कहा कि चुनावों में यदि गठबंधन को बहुमत हासिल होता है तो कुशवाहा मुख्यमंत्री होंगे।

कुशवाहा की पार्टी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का हिस्सा रही है और वह नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री रह चुके हैं। फिलहाल वह बिहार में राज्य सरकार के खिलाफ बने रहे महागठबंधन का हिस्सा थे। मायावती ने कहा कि गठबंधन बेरोजगारी, गरीबी और बाढ़ की विभीषिका को मुद्दा बनायेगा और बिहार की जनता को इनसे मुक्ति दिलायेगा।

उन्होंने कहा, “ मैं बिहार की जनता से गठबंधन को मौका देने की अपील करती हूं। भारतीय जनता पार्टी की पिछली सरकारों ने राज्य के गरीबों, वंचितों, किसानों और युवाओं के हितों की अनदेखा की है।उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों में लोकसभा और विधानसभा की सीटों के लिए हो रहे उप चुनाव में बसपा किसी के साथ गठबंधन नहीं करेगी। पार्टी उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश में उप चुनावों में अकेले उतरेगी।

From around the web