तेजस्वी यादव का नीतीश सरकार पर तंज, बिहार की मांग पूरी करने अमेरिका से आएंगे ट्रंप 

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। इस बार तेजस्वी यादव ने बिहार को विशेष दर्जा दिलाने के मुद्दे पर आड़े हाथ लेते हुए कहा कि पिछले 15 सालों से सरकार में रहने के बावजूद नीतीश कुमार राज्य को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिला पाए। महागठबंधन का घोषणा पत्र जारी करने के दौरान तेजस्वी ने कहा कि क्या ये काम करने के लिए डोनाल्ड ट्रंप आएंगे।

समाचार एजेंसी के अनुसार, महागठबंधन का संकल्प पत्र जारी करने के दौरान तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार को बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग वाली बात याद दिलाई। केंद्र और राज्य सरकार पर वार करते हुए तेजस्वी ने कहा कि अभी केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार है, लेकिन बावजूद इसके बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल सका। तंज कसते हुए तेजस्वी ने कहा कि क्या बिहार के विशेष राज्य के दर्जे वाली मांग को पूरा करने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप आएंगे।

आपको बता दें, शनिवार को आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन ने बिहार चुनाव के लिए अपना संकल्प पत्र जारी किया। तेजस्वी यादव ने 'प्रण हमारा, संकल्प बदलाव का' नाम वाले इस संकल्प पत्र को जारी करते हुए ये कहा है कि जब उनकी सरकार सत्ता में आएगी तो उनके द्वारा दस लाख लोगों को रोजगार मुहैया कराया जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस के सीनियर लीडर रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित महागठबंधन के तमाम नेता मौजूद थे।

संकल्प पत्र जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि सत्ता में आने के बाद नौकरी के लिए भरे जाने वाले आवेदनों में फीस माफ की जाएगी और परीक्षा केंद्र जाने के लिए किराया भी माफ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिहार की जनता अगर उनके महागठबंधन को सत्ता में आने का मौका देती है तब नियोजित शिक्षकों की वर्षों पुरानी मांग 'समान काम, समान वेतन' को पूरा किया जाएगा। महागठबंधन के संकल्प पत्र में कृषि ऋण माफ करने का संकल्प लिया गया है जबकि राज्य में कर्पूरी श्रम आपदा केंद्र खोलने का वादा किया गया है।

From around the web