मुंगेर में जनरल डायर बनी पुलिस, तेजस्वी ने पूछा डिप्टी सीएम ने ट्वीट के अलावे क्या किया

 

नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण की वोटिंग शुरू हो चुंकी है, वहीं दूसरे तरफ नेतागण दूसरे चरण में होने वाले चुनावी क्षेत्र की ओर रूख कर चुंके है और ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे है। आपको बता दें कि 28 अक्टूबर यानी बुधवार को राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुंगेर मामले पर सूबे की सरकार पर जमकर हमला किया है। वहीं उन्होंने सीएम नीतीश कुमार और डीप्टी सीएम सुशील को भी आड़े हाथों लिया।

तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जो राज्य के गृह मंत्री भी हैं वो क्या कर रहे थे। वहीं डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने इस मामले में ट्वीट के अलावे क्या किया है। तेजस्वी ने कहा कि वे इस मामले में सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी से पूछना चाहते हैं कि मुंगेर पुलिस को जनरल डायर बनने की अनुमति किसने दी?

तेजस्वी यादव ने कहा कि मुंगेर में नौजवानों को पुलिस ने घेर-घेरकर पीटा है, बेकसूरों पर लाठियां बरसाई गई है। मुंगेर का वीडियो भयावह है। तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर हमलावर होते हुए कहा कि बिहार सरकार को ये बताना चाहिए कि पुलिस को क्रूरतापूर्वक लाठियां चलाने की अनुमति किसने दी। गोली चलाने की अनुमति किसने दी? आपको बता दें कि तेजस्वी ने इस मामले की जांच हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज से कराने की मांग की है।

बता दें कि RJD नेता ने इस मामले में तत्काल मुंगेर की डीएम और एसपी लिपि सिंह को हटाने की मांग की है। तेजस्वी ने कहा कि लिपि सिंह एक जेडीयू नेता की बेटी हैं, उन्हें तत्काल हटाया जाए। उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस को कहीं न कहीं से जनरल डायर बनने का आदेश जरूर गया है, नहीं तो वो ऐसा कदम नहीं उठाती। उन्होंने कहा कि बिहार की कानून व्यवस्था चरमरा गई है। बिहार में डबल इंजन की सरकार चलाने का दावा करने वाली बीजेपी और जेडीयू की सरकार पूरी तरह से फेल हो गई है।

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने भी मुंगेर की इस घटना की कड़ी निंदा की है। सुरजेवाला ने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार नहीं निर्दयी कुमार और निर्मम मोदी की सरकार है। सुरजेवाला ने कहा कि राज्य की बीजेपी सरकार को सांप सूंघ गया है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी आज बिहार आ रहे हैं, अगर उनमें थोड़ा सा भी विवेक बचा है तो मां दुर्गा के के भक्तों पर गोली चलवाने वाली सरकार को बर्खास्त करके जाएंगे। 

गौरतलब हैं कि मुंगेर में मां दुर्गा की प्रतिमा विसर्जन करने जा रहे लोगों पर पुलिस ने बर्बरतापूर्ण लाठियां बरसाई थी और फायरिंग भी की, जिसमें एक नवयुवक की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे।

From around the web