प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी का बड़ा बयान, सिर्फ बकैती से नहीं चलेगा राज्य

 

नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव में पहली बार अपनी किस्मत अजमा रहीं प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी ने परिवारवाद को लेकर तेजस्वी और चिराग पर बड़ा हमला किया है। वहीं उन्होंने सूबे के वर्तमान सीएम नीतीश कुमार को भी ससम्मान रिटायरमेंट लेने की बात कहीं है। आपको बता दें कि पुष्पम ने 7 नवंबर शनिवार को दरभंगा के एक बूथ पर वोटिंग की। इसके बाद उन्होंने परिवारवाद पर जमकर हमला बोला।

पुष्पम प्रिया ने हमलावर होते हुए कहा कि आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और एलजेपी के प्रमुख चिराग पासवान को अपना राजनीतिक करियर जमीनी स्तर से शुरू करना चाहिए। सिर्फ बकैती करने से बिहार नहीं बदलेगा। उन्होंने आगे कहा कि इनको सिर्फ इसलिए मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं होना चाहिए क्योंकि ये किसी खास परिवार में पैदा हुए।

इसके साथ ही उन्होंने चुनाव में बड़ी जीत का भी दावा किया। उन्होंने कहा कि बिहार को बदलना है। हर समुदाय से समर्थन मिल रहा है। पुष्पम प्रिया ने कहा कि, 'राजनीति करने में कोई दिक्कत नहीं है. संघर्ष करें, पढ़ाई-लिखाई पूरी करें, सीखें कि कैसे नीतियां बनाएंगे. सिर्फ बकैती करने से तो राज्य नहीं चलेगा और भाषण देने से राज्य तो नहीं चलेगा। चुनाव के बाद नीतियां बनानी होंगी। अपनी पार्टी बनाएं। सब कुछ जमीन से शुरू करें। परिवारवाद को खत्म करने की जरूरत है। संविधान में परिवारवाद को खत्म करने के लिए नियम बनाने की जरूरत है।'

साथ ही उन्होंने बिहार को लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार से भी मुक्ति दिलाने की बात कही। पुष्पम ने कहा कि हम आगे तभी बढ़ पाएंगे जब लालू यादव और नीतीश कुमार से मुक्ति पाएंगे। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार कहते हैं कि यह उनका अंतिम चुनाव है, मगर वह चुनाव ही कहां लड़े? अगर वह मुख्यमंत्री उम्मीदवार के तौर पर बोल रहे हैं तो यह नहीं होना चाहिए था। उन्हें बिहार में 15 साल मिले. उनको सम्मान के साथ रिटायरमेंट ले लेनी चाहिए थी।

गौरतलब है कि नीतीश 2014 के बाद से किसी भी तरह का चुनाव नहीं लड़े है, उन्होंने बतौर मुख्यमंत्री चुनावी अखाड़ों में कदम रखा है,जिसमें वो कामयाब भी रहें।

From around the web