पप्पू यादव बदलेंगे बिहार के समीकरण, दी इन पार्टियों को खुला ऑफर

 

नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान हो चुंका है, इसे लेकर सभी पार्टियां अपना कमर भी कस चुंकी है। अब अपने इसी चुनावी रथ को और मजबूत करने के लिए प्रगतिशील लोकतान्त्रिक गठबंधन पूर्व सांसद और जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने एक बड़ा दांव चला है, जिससे बिहार में अब तीसरे समीकरण का अंदेशा जताया जा रहा है। आपको बता दें कि पप्पू यादव ने अपने इसी समीकरण को मजबूत करने के लिए NDA की प्रमुख पार्टी को बड़ा न्यौता दिया है। जिससे NDA में भी फूट पड़ने की आशंका है।

आपको बता दें कि पप्पू यादव ने चुनाव से ऐन वक्त पहले उपेंद्र कुशवाहा, चिराग पासवान, कांग्रेस और यशवंत सिन्हा को गठबंधन में आने का खुला निमंत्रण दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मैं स्वागत करता हूं वह हमारे साथ आए। रामविलास पासवान बिहार के राजनीतिक हीरो हैं, वो बीमार हैं लेकिन नीतीश कुमार को इसकी जानकारी नहीं थी।

पप्पू यादव ने नीतीश कुमार पर निशाने साधते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री को पता है मगर नीतीश कुमार को इसकी जानकारी नहीं होती है। नीतीश कुमार कुर्सी के लिए पैर पकड़ने का काम कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी, महागठबंधन हो चाहे एनडीए दोनों में विवाद पैदा करवा रही है। पप्पू यादव ने कहा कि बिहार की राजनीति में यह गठबंधन विकल्प नहीं होगा, यह बिहार की राजनीति का चेहरा होगा।

पप्पू यादव के इस बयान पर RJD प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि ऐसे लोगों को नोटिस में क्या लेना जो सुबह कुछ और शाम में कुछ बोलें। लड़ाई आर और पार की है, एक तरफ एनडीए के नेतृत्व में नीतीश कुमार हैं तो दूसरी तरफ महागठबंधन का नेतृत्व तेजस्वी यादव कर रहे हैं। अब फैसला जनता के हाथ में है। अब देखना यह है कि जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव के इस पैंतरा का विधानसभा चुनाव पर क्या असर पड़ता है, क्या ये पार्टियां गठबंधन करेंगी अगर नहीं तो फिर पप्पू यादव कौन सा दाव चलते है।

From around the web