बिहार में विधानसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर NDA में बिखराव शुरू

 

पटना: चुनाव आयोग ने बिहार में विधानसभा चुनाव तीन चरणों में करवाने की घोषणा की है। बिहार विधानसभा चुनावों में पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को प्रारंभ होगा, यानी जनादेश की प्रक्रिया प्रारंभ होने में अब महज कुछ दिन ही शेष बचे हुए हैं। इस सिलसिले में चुनावी सभाओं और वोटरों को लुभाने का काम तो महीनेभर से पूरे जोशोखरोश से चल ही रहा था।  बिहार विधानसभा चुनाव के पहले एनडीए के डीएनए में बड़ा बिखराव देखने को मिला है।

नीतीश कुमार की नीतियों से अलग लाइन तय कर चुके चिराग पासवान ने आखिरकार 143 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला ले लिया है। एलजेपी सूत्रों से मिल रही खबर के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने 143 सीटों पर एलजेपी के उम्मीदवारों का नाम तय कर लिया है। पार्टी ने 100 विधानसभा सीटों को छोड़कर बाकी सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार तय कर लिए हैं।


एलजेपी के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चिराग पासवान बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के नारे के साथ बिहार चुनाव में उतरने को तैयार हैं। लोक जनशक्ति पार्टी ने नीतीश कुमार के सात निश्चय पार्ट 2 को मानने से इनकार कर दिया है। आपको बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी के प्रवक्ता संजय सिंह ने रविवार को बयान जारी करते हुए यह कहा था कि भारतीय जनता पार्टी से सीटों के बंटवारे पर उसकी कोई बातचीत नहीं हुई है। उसके बाद ही रहता है माना जा रहा था कि अब एनडीए से चिराग पासवान अलग हो सकते हैं।


सियासी गलियारे में चर्चा है कि चिराग पासवान अपनी पार्टी के लिए जितनी सीटें जा रहे थे भारतीय जनता पार्टी उतनी सीटों पर बातचीत करने को तैयार नहीं थी। हालांकि खुद चिराग पासवान की पार्टी में कई नेता एनडीए छोड़ने के पक्ष में नहीं है लेकिन इसके बावजूद पार्टी में 143 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की लिस्ट फाइनल कर दी है। एलजेपी जल्द ही इन उम्मीदवारों की घोषणा कर देगी।
 

From around the web