अर्नब गोस्वामी के गिरफ्तारी के विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं का कांग्रेस कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन

 

पटना: अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस ने बुधवार सुबह उनके घर से दो साल पुराने एक मामले में गिरफ्तार कर लिया है। उनके साथ दो अन्य लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अर्नब की गिरफ्तारी का काफी विरोध किया जा रहा है। इस गिरफ्तारी का केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक ने विरोध किया है। वहीं अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं ने बुधवार को बिहार प्रदेश कांग्रेस कार्यालय (सदाकत आश्रम) के समक्ष प्रदर्शन किया।

अर्णब की गिरफ्तारी के विरोध में भाजपा के कार्यकर्ता दीघा के भाजपा प्रत्याशी संजीव चौरसिया के नेतृत्व में सदाकत आश्रम पहुंचे और जमकर प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध करते हुए कहा कि कांग्रेस महाराष्ट्र में दूसरा आपातकल लाना चाहती है, जिसका भाजपा विरोध करती है।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने कहा, " 'भारत तेरे टुकड़े होंगे' को 'अभिव्यक्ति की आजादी' बताने वाली कांग्रेस आज अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करवा रही है। लोकतंत्र के चौथे खंभे पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।"भाजपा के प्रदेश महामंत्री चौरसिया ने कहा कि अर्णब की गिरफ्तारी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का इतिहास रहा है और अब एक बार फिर वह शिवसेना के साथ मिलकर लोकतंत्र की हत्या पर उतारू हो गई है। उन्होंने इसे आपातकाल पार्ट 2 बताते हुए कहा कि भाजपा इसका विरोध करती रहेगी। बता दें अर्नब गोस्वामी पर आरोप है कि इन्होंने 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां को 2018 में आत्महत्या के लिए मजबूर किया था।

From around the web