Bihar: नीतीश को अपने पाले में लेने के लिए तेजस्वी ने चला ये बड़ा दांव, कहा ...ना चिल्ला सकते हैं और ना कराह

 

नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव अपने अंतिम चरण में है, जिसे लेकर अब लोगों में ये कयास लगना शुरू हो गया है कि बिहार में किसकी सरकार बनेगी। गौरतलब है कि अभी तक हुए दो चरण के चुनाव के बाद ये अनुमान लगने लगा है कि इस बार बिहार में त्रिकोणीय सरकार बन सकती है। वहीं अगर NDA को सरकार बनानी होगी तो वे बिना लोजपा के सरकार नहीं बना सकती है, जबकि लोजपा पहले ही यह कह चुंकी है की जबतक नीतीश एनडीए में रहेंगे वे एनडीए में शामिल नहीं होंगे। हालांकि वो बीजेपी को अपना पूरा समर्थन देंगे।    

आपको बता दें कि इन्हीं सब कयासों के बीच महागठबंध एवं राजद नेता तेजस्वी यादव ने बड़ा दांव चला हैं और एकबार फिर सीएम नीतीश कुमार को अपने पाले में लेने की कोशिश की है। आरजेडी ने ट्वीट कर कहा कि बीजेपी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को मजबूर कर दिया है। वहीं, सब कुछ समझते हुए वो कुछ नहीं कर पा रहे हैं।


इसके साथ ही उन्होंने अन्य ट्वीट में भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि, " भाजपा ने नीतीश जी की वो हालत कर दी है कि वो ना चिल्ला सकते हैं और ना कराह सकते हैं। समझ तो सब रहे हैं पर मजबूर नीतीश जी के पास मन मसोस कर NDA में मैत्री का राग अलापने के अलावा कोई उपाय भी कहां है।"

आपको बता दें कि इससे पहले भी जदयू ने एऩडीए से अलग होकर महागठबंधन के साथ सरकार बनाई थी, जो अपना पूरा पांच साल कंपलीट नहीं कर सका। इसके साथ ही आरजेडी ने कहा कि, " युवा तेजस्वी यादव जी रोडमैप के साथ नौकरी और रोजगार के रूप में एक मजबूत सामाजिक और आर्थिक मुद्दे पर बात कर रहे हैं। और एनडीए के आयातित, तथाकथित अनुभवी और वृद्ध नेता किस पर बात कर रहे हैं? क्या विज़न है उनका बिहार के लिए? क्या बिहार का भविष्य ऐसे भटकाने वाले नेताओं से सुधरेगा?"

बता दें कि इससे पहले आरजेडी ने सीएम नीतीश पर पीएम मोदी के चेहरे के पीछे छुपने का आरोप लगाया था। और अब वो उन्हें अपने पाले में लाने को लेकर दांव चल रहें है। अब देखना यह है कि आरजेडी अपने इस मंसूबे में कितने कामयाब होती है।

From around the web