बिहार विधानसभा चुनाव: सीट बंटवारे को लेकर बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल को कांग्रेस ने बुलाई दिल्ली

 

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर विगुल बज चुका है। सभी पार्टी के प्रमुख नेता सीट बटवारे को लेकर चर्चा शुरू कर दी है। वही आगामी चुनाव में अपनी किस्मत चमकाने के लिए  कांग्रेस पार्टी अपने सहयोगियों के साथ सीट बंटवारे के फार्मूले पर चर्चा करने जा रही है। इसके लिए पार्टी ने अपने नेताओं को बुधवार को बिहार से दिल्ली बुलाया है।

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने पार्टी के बिहार इकाई के अध्यक्ष मदन मोहन झा और विधायक दल के नेता सदानंद सिंह को दिल्ली बुलाया है।आरएलएसपी को खोने के बाद कांग्रेस पहले ही राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से नाराज है क्योंकि राजद सहयोगी दलों को अधिक सीटें नहीं दे रहा है।

 सूत्रों के मुताबिक, राजद केवल 58 सीटें कांग्रेस को दे रहा है जबकि पार्टी 70 चाहती है। वही 2015 के चुनावों में, कांग्रेस ने 41 सीटों पर चुनाव लड़ा था और 27 सीटें जीती थी, जबकि राजद ने 101 सीटों पर चुनाव लड़ा और 80 सीटें जीती थी।

बिहार की 74 विधानसभा सीटों पर विधानसभा चुनाव के पहले चरण की अधिसूचना जारी होने में महज दो दिन शेष रह गए हैं, राजद ने मंगलवार को कांग्रेस से 24 घंटे के भीतर 'सभी मतभेदों' को दूर रखते हुए सीट बंटवारे के फार्मूले पर फैसला करने का आग्रह किया था।

राजद के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा, "1 अक्टूबर को पहले चरण की अधिसूचना जारी हो जाएगी और अब तक हमें सीट बंटवारे का फार्मूला पूरा कर लेना चाहिए था।" झा ने कहा कि चुनाव सरकार बदलने के लिए नहीं बल्कि बिहार के भविष्य के लिए है।

From around the web