Shree Ram Statue Was Installed On Christmas In Ambience Mall Fact Check
Shree Ram Statue Was Installed On Christmas In Ambience Mall Fact Check

साल 2023 के आखिरी दिनों में क्रिसमस का जश्न पूरे देश में काफी धूमधाम से मनाया गया था और साथ ही देश भर से क्रिसमस सेलिब्रेशन की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हुई थीं। इस बीच सोशल मीडिया पर क्रिसमस सेलिब्रेशन का एक वीडियो भी खूब वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि इस बार क्रिसमस पर गुड़गांव के एम्बिएंस मॉल में क्रिसमस थीम पर नहीं बल्कि श्री राम की भव्य मूर्ति के साथ सजावट की गई थी।

सोशल मीडिया पर वायरल क्रिसमस का वीडियो

दरअसल, Ashish Shukla नाम के फेसबुक यूजर ने अपने हैंडल पर ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “कभी क्रिसमस ट्री से सजने वाला मोल अब भगवान श्री राम जी की भव्य प्रतिमा से सज रहा है ।। सच मे मेरा देश बदल रहा है ।।” इतना ही नहीं बल्कि वायरल वीडियो पर लिखा हुआ है – Beautiful statue of Lord Shri Ram at Ambiance Mall Gurgaon।

टूडे समाचार ने अपनी पड़ताल में पाया है कि सोशल मीडिया पर वीडियो के साथ किया गया ये वायरल दावा भ्रामक है और ये वीडियो क्रिसमस के दौरान एम्बिएंस की सजावट की नहीं बल्कि दिवाली और दशहरा के दौरान की है।

फैक्टचेक

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टूडे समाचार में जब इस वायरल वीडियो की पड़ताल की गई तो कीवर्ड को रिवर्स सर्च करने पर ‘गुड़गांव मेरी जान नाम‘ के इंस्टाग्राम पेज पर ये वीडियो हमें मिला, जिसमें यूजर ने लिखा था, “गुड़गांव के एम्बिएंस मॉल में भगवान श्री राम की प्रतिमा…इसे अपने गुड़गाव के फ्रेंड्स और फैमिली के साथ शेयर करें।” हालांकि ये वीडियो 30 अक्टूबर 2023 को अपलोड मिला।

वहीं पड़ताल के दौरान हमें कई और भी सोशल मीडिया हैंडलों पर ये वीडियो मिली।

ऐसे में ये साफ हो गया कि एम्बिएंस मॉल में दिवाली के मौके पर श्री राम की मूर्ति वाली सजावट की गई थी। हालांकि वायरल दावे में कहा गया था कि क्रिसमस पर भी ये सजावट की गई है। ऐसे में इसके स्पष्टिकरण के लिए जब हमारी टीम ने पड़ताल को आगे बढ़ाया तो एम्बिएंस मॉल गुड़गांव के फेसबुक पेज पर हमें क्रिसमस के दौरान की सजावट की कई तस्वीरें मिली।

इन तस्वीरों से ये साफ पता लग गया कि मॉल में क्रिसमस के मौके पर क्रिसमस थीम पर ही सजावट की गई थी। वहीं दिवाली के थीम पर श्रीराम के थीम पर सजावट की गई थी।

टूडे समाचाक की पड़ताल में ये साबित हो गया है कि क्रिसमस के मौके पर श्री राम की मूर्ति का एम्बिएंस मॉस में सजाए जाने का दावा पूरी तरह से फर्जी है।

Verify information accuracy with fact-checking: scrutinize claims, cross-reference sources, and confirm data to ensure reliability and combat misinformation.