लड़कियों के पास नहीं था स्मार्टफोन, शिक्षक ने स्कूल बुलाकर किया बलात्कार

 

नई दिल्ली : देश में जारी कोरोना काल के दौरान सरकार ने सभी शिक्षा व्यवस्था को ऑनलाइन करने की बात कहीं थीं, जिसे लेकर कई स्कूलों द्वारा ऑनलाइन क्लास भी शुरू किये गये। हालांकि इस दौरान विद्यार्थियों को कई परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। वहीं इससे अलग तेलंगाना से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसने लोगों को आग बबूला कर दिया है।

गौरतलब है कि स्कूलों द्वारा ऑनलाइन क्लास शुरू करने का फायदा उठाकर एक प्राइमरी स्कूल के शिक्षक ने 5 बच्चियों का रेप कर दिया। आरोप है कि इन सभी लड़कियों के पास स्मार्टफोन नहीं था जिसे लेकर इस शिक्षक ने क्लासेज के बहाने इनको स्कूल में अकेले बुलाता था और मौका पाते ही उसका यौन शोषण करता था।

जानकारी के अनुसार, यह मामला तब सामने आया जब एक छात्रा बीमार पड़ गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इस दौरान उस छात्रा ने अपने साथ हुए यौन शोषण के बारे में अपनी मां को बताया। इस घटना के बारे में जानने के बाद, बच्ची के माता-पिता सहित गुस्साए ग्रामीणों ने आरोपी शिक्षक की पिटाई कर दी।

बताया जा रहा है कि यह मामला सामने आने के बाद स्कूल की अन्य छात्राओं से भी पूछताछ की गई। इस दौरान पता चला कि 7 से 11 साल की उम्र के बीच की 5 से 6 छात्राओं के साथ शिक्षक ने कथित तौर पर यौन उत्पीड़न किया है। खबरों की मानें तो इस दौरान आरोपी शिक्षक छात्राओं को अश्लील सामग्री भी दिखाता था, साथ ही उन्हें इस बारे में मुंह न खोलने की धमकी दी थी। फिलहाल टीचर के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। वहीं अब पीड़िताओं की भी मेडिकल जांच कराई जा रही है।

मामले में जिले के एसपी सुनील दत्त ने बताया कि, "उसने लॉकडाउन के दौरान पांच से छह छात्राओं के साथ यौन उत्पीड़न किया। हमने उसे गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच कर रहे हैं।"

From around the web