'छत फाड़कर' आसमान से गिरा ऐसा खजाना, कंगाल बन गया करोड़पति

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

कहते हैं उपर वाला जब भी देता है छप्पर फाड़ के देता है...कुछ ऐसा ही हुआ इंडोनेशिया के एक युवक जोसुआ हुतागलंगु के साथ। जो ताबूत बनाने का काम करता था। हर दिन के साथ ही जोसुआ हुतागलंगु ताबूत बनाने का काम कर रहा था लेकिन तभी अचानक उनकी छत फाडते हुए कुछ चीज जमीन पर आ गिरा और 15 सेंटीमीटर तक जमीन में धंस गया। जिसके बाद इस चीज के मिलते ही चंद मिनटों में जोसुआ हुतागलंगु कंगाल से सीधे करोड़पति बन गया।

बता दें कि 33 साल के जोसुआ जब एक दिन अपने घर में काम कर रहे थे तो उसी दौरान उनके घर में आसमान से एक ऐसी चीज गिरी। इस चीज ने ही उन्हें कंगाल से सीधे 10 करोड़ रुपये का मालिक बना दिया। जोसुआ के घर आसमान से जो चीज गिरी वो एक बेहद दुर्लभ उल्कापिंड का टुकड़ा था। आसमान से जोसुआ हुतागलंगु की छत फाड़ते हुए जमीन पर गिरा उल्कापिंड का ये टुकड़ा करीब 4 अरब साल पुराना था जिस वजह से इसकी कीमत 10 करोड़ रुपये आंकी गई।

जब ये उल्कापिंड आसमान से गिरा तो जोउसा के कोलांग स्थित घर की छत में छेद हो गया। आसमान से गिरने के वक्त ये पत्थर (उल्कापिंड) गर्म था जो बाद में ठंडा हो गया। जिस वक्त ये पत्थर आसमान से गिरा उस वक्त जोउसा ताबूत बनाने का ही काम कर रहे थे। उल्कापिंड का वजन 2 किलो से ज्यादा और जब यह छत तो तोड़ते हुए गिरा तो यह 15 सेंटीमीटर तक जमीन में धंस गया।

इस उल्कापिंड के बदले जोसुआ को करीब 14 लाख पाउंड ( 10 करोड़ रुपये) मिले। यह अत्यंत ही दुर्लभ प्रजाति गपाना का बताया जाता है जिसकी वजह से इसकी कीमत 857 डॉलर प्रति ग्राम है।  जोसुआ ने बताया कि पत्थर जिस वक्त गिरा उस वक्त बेहद गर्म था लेकिन बाद में वो ठंडा हो गया।

From around the web