होटल में फौजियों को बुलाकर ये लड़की करती थी घिनौना काम, तस्वीरें देख उड़ जाएंगे होश

 

नई दिल्ली: हुस्न एक ऐसा हथियार, जो क्या ना कराये, कभी आपको मुर्गा बनाये और कभी घोड़ा। यहां मुर्गा बनने का अर्थ अपने इशारों पर नचाना और घोड़ा का अर्थ अपने पीछे भगाने से है। क्योंकि इसी हुस्न के चक्कर युवक ही नहीं बड़े-बुजुर्ग और वो जवान भी फंस जाते है, जो अपने देश के सीमा की सुरक्षा के लिए सरहद पर रहते है।

आप सहीं समझे, हनी ट्रैप। हनी ट्रैप का एक ऐसा जाल जिसमें युवतियां अपने खुबसूरत तस्वीरों के जरिये जवानों या अन्य किसी लड़के या मर्द को फंसाती है, जिसमें वे फंसते चले जाते है। हालांकि इसकी भनक उन्हें तब लगती है, जब वो ब्लैकमेल का शिकार होते है। एक ऐसा ही मामला यूपी के मेरठ की है, जहां आरती नामकी युवती ने कई फौजियों को अपने हुस्न के जाल में फंसाया, जिसे पुलिस ने उसके साथी अंकुर के साथ गिरफ्तार कर लिया।

खबरों की मानें तो लॉकडाउन की शुरुआत में ही आरती और अंकुर दोनों की नौकरी छूट गई थी। इसके बाद अंकुर ने कुटी चौराहे पर कंप्यूटर की दुकान खोल ली। जबकि, आरती भी साथ में काम करने लगी। इसके बाद दोनों मिलकर फौजियों को हनी ट्रैप में फंसाने का काम करने लगे।

आरती बीएससी तक पढ़ाई की है। वह फर्राटेदार अंग्रेजी बोलती है और पांच मोबाइल रखती थी। जबकि अंकुर कंप्यूटर पर काम करता था। जांच में पता चला कि दोनों ने कई फर्जी आईडी से फेसबुक व इंस्टाग्राम पर अकाउंट बना रखे थे। आरोपी के मुताबिक खूबसूरत तस्वीर देखकर फौजी फंस जाते थे, जिसके बाद उन्हें वो अपना शिकार बनाती थी।

पुलिस ने आरती के पास से ऐसी कई चिट्ठियां मिली हैं। चिट्ठी में वह बदला हुआ नाम ईशा लिखती थी। वो ईशा गुप्ता और ऋचा गुप्ता के नाम से भी सोशल साइट पर अकाउंट बनाती थी। उसने युवती फौजियों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजती थी।

आरती ने पुलिस को बताया था कि वह मॉल और बाजारों में शॉपिंग करने आए फौजियों को देखकर एक पर्ची पर मोबाइल नंबर लिखकर फेंक देती थी। फौजी पर्ची उठाने के बाद में उससे संपर्क करते थे। फिर, धीरे-धीरे बातें शुरू होती थी और बाद में होटल तक में भी बुलाती थी, जहां अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करती थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फौजी की शिकायत पर नौचंदी पुलिस ने मेडिकल थाना क्षेत्र के मयूर विहार निवासी अंकुर और जागृति विहार में किराए पर रहने वाली आरती को गिरफ्तार किया था। जांच में बता चला कि आरती मुजफ्फरनगर जिले के रामराज थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव की निवासी है। उनके पास से पुलिस को पांच मोबाइल फोन भी मिले थे। आपको बता दें कि इस लड़की ने अपने हुस्न का जलवा सिर्फ उत्तर प्रदेश ही नहीं, बल्कि हरियाणा, राजस्थान और गुजरात में भी फैला रखा हैं।   

From around the web