लेह को जम्मू-कश्मीर का हिस्सा दिखाने पर बढ़ी Twitter की मुश्किलें, नोटिस जारी

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Twitter (ट्विटर) की मुश्किलें बढ़ गई है। बता दें, Twitter को केंद्र सरकार की ओर से नोटिस जारी किया गया है जिसमें उसने ट्विटर से लेह को केंद्रशासित प्रदेश की बजाय जम्मू कश्मीर का हिस्सा दिखाने को लेकर सफाई मांगी है।

दरअसल, टि्वटर ने लेह को केंद्र शासित प्रदेश नहीं बल्कि जम्मू कश्मीर का हिस्सा दिखाया था जिसे लेकर अब केंद्र सरकार की ओर से ट्वीटर से सफाई मांगी गई है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने ट्विटर को इस मामले पर सफाई देने के लिए 5 दिन का समय दिया है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने  ट्वीटर को यह बताने के लिए समय दिया है कि उसके द्वारा गलत नक्शा दिखा कर भारत की अखंडता का अनादर करने और उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही क्यों ना की जाए।

वहीं, सूत्रों की मानें तो ट्विटर को केंद्र सरकार की तरफ से यह नोटिस 9 नवंबर को जारी किया गया था। यहां बता दें कि जम्मू कश्मीर की पूर्ववर्ती स्थिति को बीते साल जम्मू कश्मीर और लद्दाख के रूप में 2 केंद्र शासित प्रदेशों में बांटा गया था। जिसके बाद लेह केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख का एक हिस्सा बन गया है।

टि्वटर के ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट को भेजे गए नोटिस में मंत्रालय ने इस बात का उल्लेख किया है। कंपनी ने लेह को जम्मू कश्मीर के रूप में दिखाकर कंपनी के द्वारा भारत की संप्रभु संसद की इच्छा को कम करने की एक सोची समझी कोशिश की गई, जिसने लद्दाख को लेह में उसके मुख्यालय के साथ भारत के एक केंद्र शासित प्रदेश के रूप में घोषित किया था।

बता दें कि इससे पहले ट्विटर ने लेह को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (चीन) के हिस्से के रूप में दिखाया था, जिसके बाद सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव ने ट्विटर के सीईओ जैक डोरसे को इस पर आपत्ति जताते हुए एक पत्र लिखा था।

इसके जवाब में, ट्विटर ने चीन को आंशिक रूप से हटाते हुए मैप को सही किया था। लेकिन लेह को केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के हिस्से के रूप में दिखाने के लिए नक्शे को सही करना अभी बाकी है। ट्विटर अभी भी लेह को जम्मू-कश्मीर के हिस्से के रूप में दिखा रहा है।

From around the web