बिहार चुनाव से पहले सोनिया गांधी ने कही ये बड़ी बात

 

रिपोर्ट- रितिका आर्या

बिहार चुनाव में पार्टी की साख बचाने और मतदाताओं को लुभाने के लिए एक फिर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी आगे आईं है। सामने आते ही सोनिया गांधी ने प्रदेश की नीतीश सरकार पर हमला बोला साथ ही बिहार के वोटरों को साधने के लिए दावे चला। सोनिया गांधी ने मंगलवार सुबह प्रदेश की मौजूदा सरकार पर वार करते हुए बदलाव की बात कही।

बता दें कि सोनिया गांधी ने एक संदेश जारी किया है जिसे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली और बिहार में बंदी सरकार है। इस सरकार ने नोटबंदी, तालाबंदी, आर्थिक मंदी, व्यापार बंदी, खेत खलियान बंदी, रोजगार बंदी सभी दी है। ऐसे में इस बार बिहार की जनता इस बंदी सरकार के बदलाव के लिए तैयार है और अब बदलाव की बयार है।

अपने वीडियो संदेश में सोनिया गांधी है ये कहती नजर आ रही है, “आज बिहार में सत्ता और उसके अहंकार में डूबी सरकार अपने रास्ते से अलग हट गई है, ना उनकी कथनी अच्छी है और ना ही करनी. मजदूर, किसान, नौजवान आज परेशान और निराश है. अर्थव्यवस्था की नाजुक स्थिति लोगों पर भारी पड़ रही है”।

राहुल ने ट्विटर पर शेयर कर लिखी ये बात

वीडियो सांझा करते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने लिखा, “बदलाव की बयार है।’कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी जी का बिहार की जनता के नाम संदेश आपसे साझा कर रहा हूँ। नए बिहार के लिए एकजुट होकर महागठबंधन को जीताने का समय है”।

सोनिया ने अपने संदेश में कहा कि धरती के बेटों पर आज गंभीर संकट है, दलित-महादलितों को बेहाली की कगार पर छोड़ दिया गया है। समाज का पिछड़ा वर्ग इसी बदहाली का शिकार है, बिहार की जनता आवाज कांग्रेस-महागठबंधन के साथ है।

करीब पांच मिनट के संदेश में सोनिया गांधी ने आगे कहा कि बिहार के हाथों में गुण है, ताकत है लेकिन बेरोजगारी, पलायन, महंगाई ने आंखों में आंसू और पैरों में छाले दिए हैं। जो शब्द कहे नहीं जाते उन्हें आंसुओं से कहना पड़ता है।

From around the web