घोटालेबाज मेहुल चोकसी के घर के बाहर इतने नोटिस और समन, दीवार तक नहीं दिख रही

 
घोटालेबाज मेहुल चोकसी के घर के बाहर इतने नोटिस और समन, दीवार तक नहीं दिख रही

नई दिल्ली: पिछले दिनों एंटीगुआ से गायब होने के बाद भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी डोमिनिका में पकड़ा गया। डोमिनिकन कोर्ट ने चोकसी के भारत प्रत्यर्पण पर रोक लगा दी है और उसके प्रत्यर्पण को लेकर वहां सुनवाई जारी है तो मुंबई स्थित उसके घर की दीवारें जांच एजेंसियों के समन और नोटिस से पटे पड़े हैं।

डोमिनिका में पकड़े जाने के बाद स्थानीय अदालत ने भारतीय भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण पर रोक लगा दी है। चोकसी को भारत के बजाए एंटीगुआ और बारबूडा प्रत्यर्पित किए जाने की अधिक संभावना दिख रही है, लेकिन मुंबई स्थित उसके घर के बाहर एक के बाद एक नोटिस चिपकाए जा रहे हैं।

आजतक की टीम मुंबई के पॉश वालकेश्वर इलाके में मेहुल चौकसी के घर पहुंची जहां टीम ने पाया कि आरोपी का घर नोटिस और समन से पटा पड़ा है। घर के दरवाजे और दीवारों पर सैकड़ों नोटिस और समन चिपकाए जा चुके हैं। वास्तव में इतने नोटिस और समन लगाए गए हैं कि घर के दरवाजे और दीवार तक दिखाई नहीं दे रहे हैं।

घर की हालत यह हो गई है कि कई समन और नोटिस तो जमीन पर गिरे पड़े हैं क्योंकि दरवाजे और दीवार पर उसे चस्पा करने के लिए कोई जगह ही नहीं बची है। ये सारे नोटिस और समन 2018 से लेकर हाल के महीनों तक के हैं।

हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी अपने भतीजे नीरव मोदी के साथ फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपये की कथित ठगी के मामले में भारत में वांछित है। नीरव मोदी फिलहाल लंदन की जेल में बंद है। भारतीय अधिकारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी दोनों को वापस लाने की कोशिश कर रहे हैं।

मुंबई में मेहुल चौकसी का घर गोकुल अपार्टमेंट, व्हाइट हाउस के पास, वालकेश्वर में है। यहां चोकसी 9वीं और 10वीं मंजिल पर डुप्लेक्स का मालिक है। गोकुल अपार्टमेंट के इस फ्लैट में आजतक की टीम पहुंची। हालांकि फ्लैट में ताला लगा हुआ था, लेकिन हमने जो पाया उससे हम आश्चर्यचकित रह गए क्योंकि फ्लैट के बाहर हर ओर सिर्फ नोटिस और समन पसरा पड़ा था।

जब हम चोकसी के फ्लैट पर पहुंचे तो उसके फ्लैट के बाहर बहुत सारे नोटिस और समन थे। ये समन प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), आयकर विभाग और कई अन्य बैंकों के हैं। वास्तव में फ्लैट के रखरखाव से जुड़े नोटिस हैं जिसकी कीमत 95 लाख से अधिक है।

ईडी और आयकर विभाग की ओर से भेजे गए नोटिस और समन में कहा गया है कि मेहुल चोकसी तुरंत अधिकारियों के सामने मौजूद हों। जांच एजेंसियों की ओर से ये नोटिस और समन फ्लैट के दरवाजे पर चस्पा कर दिए जाते हैं। दिलचस्प बात यह है कि नोटिस चिपकाने के लिए अब दीवार और दरवाजे पर जगह नहीं बची है इसलिए नोटिस और समन जमीन पर बिखरे पड़े हैं। हमें फ्लैट के बाहर केवल आधिकारिक दस्तावेज, नोटिस और समन मिले।

From around the web