राहुल और प्रियंका के पीड़ित परिवार से मिलने के बाद SIT पहुंची गांव, सीएम योगी ने कर दी सिफारिश...

 

नई दिल्ली : हाथरस गैंगरेप मामले में लगातार मीडिया और प्रशासन के आमने-सामने आने के बाद सीएम योगी ने हस्तक्षेप करते हुए मीडियाकर्मियों को पीड़ित परिवार से मिलने की इजाजत दी। वहीं उन अधिकारियों का भी निलंबन कर दिया, जिनका संबंध इस मामले में सामने आ रहा था। आपको बता दें कि शनिवार 3 अक्टूबर 2020 को कांग्रेस  के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की। इस दौरान जहां दोनों नेताओं ने पीड़ित परिवार सांत्वना दी, वहीं उन्होंने कांग्रेस की ओर से 10 लाख का चेक भी उन्हें आर्थिक सहायता के तौर पर दिया।

पीड़ित परिवार से मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि पीड़िता का परिवार न्यायिक जांच के साथ सुरक्षा और डीएम पर कार्रवाई चाहता है। आपको बता दें कि कांग्रेस के दोनों नेताओं के बाद ही SIT गांव पहुंची, जहां उन्होंने पीड़ित परिवार से पूछताछ की। वहीं सीएम योगी ने भी इस मामले में CBI जांच की सिफारिश कर दी है।

हालांकि परिवारजनों का कहना है कि जब तक उन अस्थियों की जांच नहीं हो जाती की यह अस्थि उनकी बेटी की है या अन्य किसी की। तब तक वे उन अस्थियों को प्रवाहित नहीं करेंगी।  पीड़ित परिवार ने कहा है कि पुलिस ने आधी रात को जिस डेडबॉडी को जलाया वो उन्हीं की बेटी थी या नहीं, इसकी जांच के लिए वे चिता से उठाई गई अस्थियों की DNA जांच की मांग करेंगे।

बता दें कि कांग्रेस के अलावा राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी और समाजवादी पार्टी के 11 नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल भी आज हाथरस पहुंचेगा, जहां वे पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे।

From around the web