राज्यसभा में पारित कृषि बिल पर सचिन पायलट का बड़ा हमला, कहा उपसभापति  ने कर दिया अनसुना

 

नई दिल्ली : संसद के दोनों सदनों से कृषि बिल पारित होने के बाद देश में लगातार इस बिल का विरोध प्रदर्शन हो रहा है। और सरकार से इस बिल को वापस लेने की मांग की जा रही है। वहीं कांग्रेस भी इस बिल को लेकर देश व्यापी प्रदर्शन कर रही है, और इस बिल को किसान विरोधी बता रही है। जबकि सत्तापक्ष पार्टियां इस बिल को किसान के हित में बता रही है।

किसान के इसी कृषि बिल को लेकर कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने बीजेपी पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने कहा कि राज्यसभा में बिल पारित करते हुए जिस प्रक्रिया का पालन किया गया उससे पता चलता है कि केंद्र सरकार के पास बहुमत नहीं था। जब राज्यसभा में वोटरों का विभाजन मांगा गया तब उपसभापति ने इसे अनसुना कर जबरदस्ती से बिल पारित करवाया ।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस कानून की मांग किसने की थी? या तो किसान कहते कि हमारी ये मांग है तो आप उसकी मांग को पूरा करते। जब आप अकाली दल की कैबिनेट मंत्री को समझा नहीं पाए। आप किसानों को क्या समझा पाएंगे। गौरतलब है कि संसद के दोनों सदनों से कृषि बिल पास होने के बाद पंजाब में बीजेपी के सहयोगी अकाली दल ने बीजेपी से किनारा कर लिया और लगातार इस बिल का विरोध कर रही है। अब देखना यह है कि इस बिल को लेकर जारी प्रदर्शन पर सरकार क्या कदम उठाती है।  

From around the web