राहुल गांधी ने पहले ही की थी कोरोना की भविष्यवाणी: गुलाम नबी आजाद

 

नई दिल्ली: संसद के मानसून सत्र में कांग्रेस से राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि कोरोना को रोकने के लिए सरकार ने स्वर्णिम महीने बर्बाद किए है।  आजाद ने आगे कहा डब्ल्यूएचओ ने दिसंबर 2019 में चेतावनी दी थी। चीन हमारा पड़ोसी देश है, हमें पहले सतर्क होना चाहिए था। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी मोदी सरकार को सबसे पहले चेतावनी दी थी कि एक महामारी हमारे ऊपर मंडरा रही है। जिससे देश में सुनामी आएगी।

इसके बाद फिर उन्होंने फरवरी में सरकार को चेताया लेकिन इस सरकार ने किसी पर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि देश में सेनेटाइजर का उत्पादन बढ़ा है इसलिए इसकी कीमतें आधी की जानी चाहिए ताकि गरीब भी आसानी से इसका उपयोग कर सके।

उन्होंने कहा कि साबुन की कीमतें भी आधी होनी चाहिए। उन्होंने कोरोना से निपटने के लिए सुझाव देते हुये कहा कि जिला और तहसील स्तर पर जांच की व्यवस्था की जानी चाहिए और स्वास्थ्य देखभाल इंफ्रास्ट्रक्चर का विस्तार किया जाना चाहिए।

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने वैक्सनी को लेकर भी कई सुझाव दिये और कहा कि वैक्सीन किफायती होनी चाहिए। वैक्सीन को लेकर नियामक तंत्र भी मजबूत होनी चाहिए।

From around the web