पीएम मोदी ने लटकाया अटकलों पर विराम, इस दिन सीएम पद की शपथ लेंगे नीतीश

 

नई दिल्ली : बिहार में एक बार फिर एनडीए गठबंधन का सरकार बनने जा रहें है, जिसका नेतृत्व सूबे के सीएम और जदयू नेता नीतीश कुमार करेंगे। गौरतलब है कि तकरीबन 2 दशक के बाद पुनः बीजेपी की सीट जदयू से अधिक आने पर बीजेपी के कई नेताओं ने बिहार में भाजपा उम्मीदवार की सीएम बनने की बात कहीं। उनका कहना है कि इस बार बीजेपी बड़े भाई के तौर पर सामने आई है और बीजेपी ही आम लोगों की पहली पसंद है, इसलिए बीजेपी का ही कोई नेता बिहार का सीएम होना चाहिए।

आपको बता दें कि इस अटकलो के बाजार पर पीएम मोदी ने पूरी तरह विराम लगा दिया और ऐलान कर कहा कि इस बार फिर बिहार के सीएम नीतीश कुमार होंगे, जिनके नेतृत्व में एनडीए गठबंधन की सरकार चलेगी।

सूत्रों की नीतीश कुमार दिवाली के बाद 17 नवंबर को शपथ ले सकते है, जिससे नीतीश बिहार के पहले ऐसे सीएम बन जाएंगे, जो लगातार 7 बार सीएम बनेंगे। आपको बता दें कि इस चुनाव में NDA गठबंधन को 125 सीटें मिली है, वहीं महागठबंधन 110 सीटों पर सिमट गई। महागठबंधन में राजद के अलावा अन्य कोई पार्टी कुछ खास कमाल दिखा नहीं सकीं, जिससे वो जीत से 12 कदम पीछे रह गई।

एनडीए की बात करें तो कुल 125 सीटों में से 74 भाजपा को, 43 जदयू, 4 हम और 4 VIP को सीटें मिली हैं।

From around the web